स्वत्वबोधक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

स्वत्वबोधक एक शब्द या व्याकरणिक निर्माण है जो व्यापक अर्थ में स्वामित्व के संबंध को दर्शाता है। इसमें सख्त स्वामित्व, या इसके अनुरूप अधिक या कम डिग्री के कई अन्य प्रकार के संबंध शामिल हो सकते हैं।[1]

अंग्रेजी समेत कुछ भाषाओं में संज्ञा या नाममात्र वाक्यांशों से प्राप्त स्वामित्व वाले रूप भी होते हैं।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Cunningham, Bob. "Genitive is Not Always Possessive". The alt.usage.english Home Page. मूल से 2014-11-15 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2014-02-26.
  2. (वीर गडरिया) पाल बघेल धनगर (ÖNB).

सूत्र[संपादित करें]

  • Fraser, Peter M. (2000). "Ethnics as Personal Names". Greek Personal Names: Their Value as Evidence (PDF). Oxford: Oxford University Press. पपृ॰ 149–157. मूल (PDF) से 18 अक्तूबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 सितंबर 2023.

अग्रिम पठान[संपादित करें]

  • Biber, Douglas, et al. (1999) Longman Grammar of Spoken English. Harlow, Essex: Longman. ISBN 0-582-23725-4.
  • Jespersen, Otto. (1949) A Modern English Grammar on Historical Principles. Part 2 (Syntax, vol. 1). Copenhagen: Munksgaard; London: George Allen and Unwin.
  • Payne, John, and Rodney Huddleston. (2002) "Nouns and Noun Phrases." Chap. 5 of Rodney Huddleston and Geoffrey K. Pullum. The Cambridge Grammar of the English Language. Cambridge: Cambridge University Press. ISBN 0-521-43146-8.
  • Quirk, Randolph, et al. (1985) A Comprehensive Grammar of the English Language. Harlow, Essex: Longman. ISBN 978-0-5825-1734-9.