सुभाष चन्द्र कुशवाहा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सुभाष चन्द्र कुशवाहा जन्म तिथि- 26-04-1961 जन्म स्थान- ग्राम जोगिया जनूबी पट्टी, फाजिलनगर, कुशीनगर,उ0प्र0 शिक्षा- स्नातकोत्तर (विज्ञान) सांख्यिकी। प्रकाशित पुस्तकेंः-

काव्य संग्रह-

1-आशा’, 1994 2-कैद में है जिन्दगी, 1998 3-गांव हुए बेगाने अब, 2004

कहानी संग्रह

4-हाकिम सराय का आखिरी आदमी, 2003। यात्री प्रकाशन। 5-बूचड़खाना, 2006। शिल्पायन। 6-होशियारी खटक रही है, 2009। अंतिका प्रकाशन। 7-लाला हरपाल के जूते और अन्य कहानियां, 2015। पेंगुइन बुक्स, इण्डिया।

संपादित संग्रह

8-कथा में गांव (कहानी संग्रह), 2006, 9-जातिदंश की कहानियां, 2009 10-लोकरंग-1 (लोक संस्कृति), 2009 11-लोकरंग-2 (लोक संस्कृति), 2011

संपादित पत्रिकाएं

कथादेश का किसान विशेषांक-‘किसान जीवन का यथार्थः एक फोकस’ का संपादन लोकरंग वार्षिकी का 1998 से निरंतर संपादन।

स्वतंत्रता संग्राम इतिहास

12-चौरी चौरा विद्रोह और स्वाधीनता आन्दोलन, 2014, पेंगुइन बुक्स इंडिया प्र.लि.

किसान विद्रोह और अवध पर शोध कार्य जारी  

देश के सभी प्रमुख पत्र-पत्रिकाओं में 300 के लगभग आलेख और 55 कहानियां प्रकाशित।


पता-सृजन बी 4/140 विशाल खंड, गोमतीनगर, लखनऊ 226010।


हिन्दी कथाकार सुभाष चन्द्र कुशवाहा की कहानी-भटकुइयां इनार के खजाना एम.ए.(भोजपुरी) छपरा विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम में लग चुकी है। लोकरंग-१ और 2 पुस्तकें संदर्भ ग्रंथ के रूप में आरा और छपरा विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम में लग चुकी है।