सी एम वाई के वर्ण प्रतिरूप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
क्यान, रानी, पीला एवं कुंजी (काला)
अर्ध-पारदर्शी काँच की रंगीन पर्तें दिखाती हैं, कि कैसे रंगों की पर्तें कागज़ पर मिश्रित होकर CMY वर्णों का वर्णक्रम बनाती हैं।

Cyan Magenta Yellow Key यानी काला [संपादित करें]

CMYK ( cyan}}, magenta, yellow, एवं key (काला), [1] जिसे प्रायः प्रॉसेस कलर्स या चतुर्वर्ण भी कहा जाता है), एक व्यकलित वर्ण प्रतिरूप है, जिसे रंगीन मुद्रण, में प्रयोग किया जाता है।

CMYK प्रतिरूप कुछ रंगों को श्वेत पृष्ठभूमि पर आंशिक या पूरा छिपा कर, यानि किसी विशिष्ट तरंगदैर्घ्य को सोखकर, कार्य करता है। ऐसे प्रतिरूप को व्यकलित प्रतिरूप कहते हैं, क्योंकि यह स्याही श्वेत में से उज्ज्वलता को घटा देता है।

हाफ-टोनिंग[संपादित करें]

CMYK raster print.jpg

पटल कोण[संपादित करें]

एक छाया चित्र, अपने क्यान, रानी, पीला,काला घटकों के साथ।


C 75° 15° 105°
M 15° 45° 75°
Y 90°
K 45° 75° 15°

काली स्याही क्यों प्रयोग की[संपादित करें]

जो काला क्यान, रानी, पीला प्राथमिक रंग के द्वारा सभी को मिलाने पर बना काला रंग संतोषजनक नहीं होता है। इसलिये मुद्रण में अतिरिक्त काला रंग प्रयोग किया जाता है।

RGB से तुलना[संपादित करें]

रूपांतर[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The “K” in CMYK stands for key, as in four-color printing, cyan, magenta, and yellow printing plates are carefully keyed or aligned with the key line of the black key plate. Some sources suggest that the “K” in CMYK comes from the last letter in “black”, for instance Mark Galer and Les Horvat (2002). Digital Imaging: Essential Skills. Focal Press. and Simon Jennings (2003). Artist's Color Manual: The Complete Guide to Working with Color. Chronicle Books. However, such explanations are likely inaccurate, plausible inventions of authors unfamiliar with traditional printing technology. Mark Gatter (2005). Getting It Right in Print: Digital Pre-press for Graphic Designers. Laurence King Publishing.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाह्य कडि़याँ[संपादित करें]