सिदत्संगरा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सिदत्सङ्गरा श्री लंका में मध्यकाल में रचित एक विद्वतापूर्ण ग्रन्थ है जो सिंहल भाषा में काव्यरचना के लिए एक मार्गदर्शिका के रूप में लिखा गया है। डब्ल्यू एस करुणातिलके तथा जेम्स गेयर ने १९५५ से २०१२ तक घोर परिश्रम से इसका अनुवाद किया है। [1]

सन्दर्भ[संपादित करें]