सामाजिक प्रगति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सामाजिक प्रगति परिषद वह विचार है कि समाज, अपनी सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक संरचनाओं के सम्बन्ध में, बेहतर कर सकते हैं या करते हैं।

इतिहास[संपादित करें]

ज्ञानोदय युग (1650-1800)[संपादित करें]

आज़ादी की धारणा[संपादित करें]

मार्क्सवादी सिद्धान्त (19वीं सदी के आख़िर में)[संपादित करें]

आधुनिकवादी विचार में (20वीं सदी)[संपादित करें]

उत्तराधुनिकवादी विचार (20वीं सदी के आख़िर में)[संपादित करें]

समकालीन ट्रेंड्स[संपादित करें]

सामाजिक प्रगति का मापन[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]