साँचा:संत कबीर नगर जिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

संत कबीर नगर जनपद पहले बस्ती जनपद में आता था लेकिन स्वर्गीय भालचंद यादव के द्वारा इसको अलग जिला घोषित कराने में सबसे बड़ा योगदान है| जिसके कारण से आज संत कबीर नगर जिला अस्तित्वा में आया| इस जिले का नाम महान संत कबीर दास के नाम पर रखा गया है| इस जनपद में कुल तीन तहसील है और इसका मुख्य शहर खलीलाबाद है| कबीर दास के सम्बन्ध में एक कहानी प्रचलित है जिसके अनुसार संत कबीर दास जी पहले बनारस में रहते थे उस समय एक अफवाह प्रचलित हुआ की काशी में प्राण त्यागने वालो को सीधे स्वर्ग की प्राप्ति होगी| इसी अफवाह को गलत साबित करने के लिए कबीर दास जी संत कबीर नगर में आये और उन्होंने अपना प्राण मगहर में त्यागा,तब से आज तक मगहर को एक धाम के रूप में माना जाता है और वहाँ दूर दूर से लोग उनके समाधि के दर्शन के लिए आते है| '