सदस्य:Shreya8899/WEP 2018-19

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Leander Paes (19209244146).jpg

लीएन्डर पेस एक भारतीय टेनिस खिलाड़ी है। उनका जन्म १७ जून, १९७३ को कल्कत्ता में हुआ था। उनके पिता वीसी पेस सन् १९७२ के म्युनिश ओलम्पिक्स में भारतीय हॉकी टीम के खिलाड़ी थे। उन्की माता सन् १९८० के एशियन बास्केटबाल चैंपियनशिप में भारतीय बास्केटबाल टीम की कप्तान थी। लीएन्डर पेस और रीया पिल्लै की बेटी का नाम अयाना है। लीएन्डर ने अशोक कोहली की 'राजधानी एक्सप्रेस', एक सामाजिक-राजनीतिक थ्रिलर में अपनी अभिनय की शुरुआत की। उन्हें अपनी पहली हॉलीवुड फिल्म की लिपि भी पेश की गई है।

महेश भुपती के साथ भागीदारी[संपादित करें]

१९९६ से उन्होंने महेश भुपती के साथ भागीदारी की। इसका पहला वर्ष सफल नहीं था, खासतौर पर ग्रैंड स्लैम में। १९९७ पेस और भूपति की टीम के लिए एक बेहतर वर्ष साबित हुआ। साल के शुरुआत में उनकी पद संख्या ८९ थी और साल खतम होने तक १४ हो गई। उस वर्ष उन्होंने ग्रैंड स्लैम में अपना सर्वश्रेष्ठ एकल प्रदर्शन भी किया था लीएन्डर और भूपति की टीम १९९८ में मजबूत हो गई। वे तीन ग्रैंड स्लैम - ऑस्ट्रेलियन ओपन, फ्रेंच ओपन और यूएस ओपन के सेमीफाइनल में पहुंच गए।

प्रदर्शन एवं हार-जीत[संपादित करें]

२०१० में लीएन्डर 'ओलंपिक गोल्ड़ क्वेस्ट' के निदेशक मंडल में शामिल हो गए, जो कि गीत सेठी और प्रकाश पादुकोण द्वारा स्थापित की गई एक सन्स्था है। यह सन्स्था भारत के गुणवान खिलाडियों को ओलंपिक पदक जीतने में सहायता देती है। लीएन्डर हरियाणा के खेल राजदूत भी है। १९८५ में लीएन्डर चेन्नै के ब्रिटानिया अमृतराज टेनिस अकादमी के साथ दाखिला हुए थे, जहां उन्हें डेव ओमिअरा द्वारा प्रशिक्षित किया गया था। इस अकादमी ने उनके प्रारंभिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। १९९० में 'विंबल्डन जूनियर' का शीर्षक जीतने के बाद लीएन्डर ने अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्धि प्राप्त की थी। वे विश्व रेंकिंग में प्रथम स्थान पर थे। १९९६ के अट्लान्टा ओलंपिक्स में खेलते समय उनकी कलाई घायल होने के बावजूद भी उन्होंने कांस्य पदक जीता। चालीस साल बाद कोई व्यक्तिगत पदक जीतने वाले वे पहले भारतीय थे। यह उनके सबसे अच्छे प्रदर्शनों में से एक था।

लीएन्डर ने विंबलडन में मिक्स्ड डबल्स जीतने के लिए लिसा रेमंड के साथ मिलकर खेले। इसी साल 'डबल्स' के वर्ग में वे पहले पद पर पहुंच गए। लीएन्डर ने २००३ में ऑस्ट्रेलियन ओपन और विंबलडन में मार्टिना नवरातिलोवा के साथ मिक्स्ड डबल्स जीते। विंबलडन की जीत के कुछ हफ्ते बाद, पेस को एमडी एंडरसन कैंसर सेंटर में भर्ती कराया गया था। जांच करने पर पता चला कि उन्हें न्यूरोसाइटिस्टिकोसिस था, जो एक परजीवी मस्तिष्क बीमारी है। इलाज के कारण वे यूएस ओपन में नहीं खेल पाए, लेकिन उस वर्ष के अंत तक वे ठीक हो गए। २००८ में कारा ब्लैक के साथ उन्होंने यूएस ओपन में 'मिक्स्ड डबल्स' का वर्ग जीता। २००९ में लुकस ड्लौही के साथ उन्होंने फ्रांसीसी ओपन और यूएस ओपन पुरुष के मिक्स्ड डबल्स जीते और यूएस ओपन में मिक्स्ड डबल्स में रनर-अप थे। २०१२ के विंबलडन चैम्पियनशिप में लीएन्डर और राडेक स्टेपनेक की यात्रा समाप्त हो गई जब दोनों इवान डोडिग और मार्सेलो मेलो के खिलाफ हार गए। लीएन्डर ने मार्सिन मटकोस्की के साथ २०१४ मलेशियाई ओपन पुरुषों के डबल्स जीते। १७ जनवरी को उन्होंने ऑकलैंड में अपने ९३वें फाइनल में क्लेसन के साथ अपना ५५वां खिताब जीता। टीम ने फाइनल तक पहुंचते-पहुंचते तीन मैच टाई ब्रेक जीती थि। लीएन्डर ने १६ साल की उम्र में अपने डेविस कप कैरियर की शुरुआत की, जब उन्होंने डबल्स में जीशान अली के साथ खेला और जापानी टीम को पांच रनों के मुकाबले में हराया। एंड्रे आगासी कहते हैं कि लीएन्डर के खेलने की तकनीक अजीब है। खेलते समय वे अपनी तकनीक बदलते रहते हैं। वे सबसे अच्छे वॉलीयर्स और ड्रॉपशॉटर में से एक है। यह तकनीकें उन्होंने पूर्व भारतीय खिलाड़ी अख्तर अली से सीखी थीं।

पुरस्कार[संपादित करें]

भारत के सबसे श्रेष्ठ टेनिस खिलाड़ियों में से एक होने के कारण उन्हें १९९६-९७ में भारत के सर्वोच्च खेल सम्मान, राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार मिला था, १९९० में अर्जुन पुरस्कार, २००१ में पद्मश्री पुरस्कार और २०१४ में टेनिस में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए पद्म भूषण मिला था। उन्होंने १९९२ से २०१६ तक लगातार ओलंपिक उपस्थितियों में भाग लिया। सात ओलंपिक खेलों में भाग लेने वाले वे पहले भारतीय और एकमात्र टेनिस खिलाड़ी है।

संदर्भ[संपादित करें]

  • १ Leander Paes[1]
  • २ Leander Paes Biography, [2]

संदर्भ[संपादित करें]