सदस्य:Sharanya k v/प्रयोगपृष्ठ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

गौतम मेनन

Gautham Menon (cropped)

गौतम वासुदेव मेनन एक भारतीय निर्देशक और ज्यादातर तमिल फिल्म उद्योग में निर्माता है। उनको आमतौर पर गौतम मेनन के नाम में जाना जाता है। उनहोने हिंदी और तेलगु जैसे अन्य भाषाओं में फिल्मों के निर्देशन में भी बहुत प्रसिद है। उनके सबसे लोकप्रिय फिल्मों वार्णम आयिरम (२००८) और विन्नैतांडी वरुवाय (२०१०) और उनके एक्शन-थ्रिलर काक काक और वेय्तैयादु विलियदु हैं। इन सभी फिल्मों आलोचकों से प्रशंसा जीत लिया है और इन सभी फिल्मों इनका अर्द्ध आत्मकथात्मक फिल्मों हैं। वे एक विज्ञापन एजेंसी "फोटॉन फैक्टरी" का मालिक है जो अब एक फिल्म निर्माण कंपनी है। मेनन अन्य भाषाओं में एक ही फिल्मों को साकार करने में गहरा है। वे अपने लंदन स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध फोटॉन खथास फिल्म निर्माण कंपनी के माध्यम से फिल्मों उत्पादन करते है। हाल ही में उन्होंने तमिल सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म "थंगा मीनगल" के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता है जिसे उन्होने उत्पादन किया।

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा[संपादित करें]

गौतम मेनन का जन्म २५ फ़रवरी १९७३ को हुआ था। उनका जन्म एक मलयाली पिता और तमिल माँ को केरल के पलक्कड़ जिले के ओटट्पालम शहर में हुआ था। वे केरल में पैदा होकर अपनी शिक्षा तमिलनाडु में किया था। वे त्रिची के केके नगर के वेलान्कनि राज स्कूल में अपनी शिक्षा किया। वे अपने मैकेनिकल इंजीनियरिंग तमिलनाडु के त्रिची के मूकामबिकै कॉलेज में किया था। उनका शादी प्रीती के सात हुआ था। मेनन दंपतियों को तीन बेटे है जिनका नाम आर्य, ध्रुव और आध्य है।

जीवन-यात्रा[संपादित करें]

सन १९९३ में उनका कॉलेज के समय वे अपने फिल्मों मिन्नले,वार्णम आयिरम (२००८) और विन्नैतांडी वरुवाय(२०१०) का मुख्य पात्रों का प्रेरणा मिला। उनको देअद पोएट सोसैटी और नायगन फिल्मों से भी प्रेरणा मिला। वे अपने मता पिता से अपने जीवन-यात्रा को बदलने का इच्छा प्रकट किया। वे कॉलेज होस्टल में अपने पेहले फिल्म की कहानी लिखे थे। उनकी माँ की इच्छा यह था की वे एक विज्ञापन सफलता निर्माता बने और फिल्म निर्माता राजीव मेनन के सात शागिर्दी करें। मिन्सरा कनवु (१९९७) फिल्म के लिये वे सहायक निदेशक के रूप में काम किये थे। इस फिल्म में वे एक कैमियो भूमिका में दिखाई दिया थे।

वे अपने पेहले रोमांटिक फिल्म "ओ लाल" (२०००) को निर्देशन किया। वे अपने निर्माताओं को बदल कर, फिल्म का नाम भी बदल दिया। इस फिल्म का नया नाम मिन्नले था। इस फिल्म में मादवन नयक के पात्र कर रहे थे। मेनन ने कह कि, इस फिल्म बनने में उनको कठिनाई हुआ क्योंकि इस फिल्म के सरे सदस्य फिल्म उद्योग में नये थे। सिरफ एक तकनीशियन सुरेश युरयेस, अनुभवी था। मेनन को और दबाव हुआ जब नायक मादवन ने मेनन को फिल्म के कहानी को उनके उपदेशक मनी रत्नम से बयान करने केलिये कहा क्योंकि नायक मादवन यह जानना चाहते की,अलैपायुदे फिल्म के सफलता के बात क्या यह फिल्म उनका जीवन-यात्रा के लिये सही है या नही। मनी रत्नम इस कहानी से उतना कुश नही थे, पर नायक मादवन को इनके हालत को देखकर सहानुभूति से इस फिल्म में काम करने केलिये हान कहा। इस फिल्म के अन्य अभिनेताओं अब्बस और रीमा सेन है। मेनन ने रीमा सेन को अभिनेत्री के रूप में परिचय दिया था। वे हर्रिस जैरज को भी संगीत निर्देशक के रूप में परिचय दिया था। इस फिल्म २००१ वेलेंटाइन्स डे को प्रकाशन हुआ। इस फिल्म का कहानी यह है की, एक युवक एक लड़की के साथ प्यार में पड़ जाता है,जो उसके पुराने कॉलेज दुश्मन के मंगेतर है और वह उससे केसे शादी करता है। जब ये फिल्म प्रकाशन हुआ तब इसे आलोचकों से प्रशंसा जीत लिया था।[1] [2] [3] [4]

सन्दर्भ[संपादित करें]

शेयर बाजार[संपादित करें]

Copa Airlines NYSE 2011 Shankbone

एक शेयर बाजार या एक्सचेंज, एक मुद्रा या शेयर बाजार है जहां शेयर दलालों और व्यापारियों को शेयर (शेयरों कहा जाता है), बांड, और अन्य प्रतिभूतियों खरीदने और / या बेच सकते हैं। शेयर बाजारों अनेक सुविधा प्रदान कर सकता है जैसे, मुद्दे और प्रतिभूतियों के मोचन और अन्य वित्तीय साधनों, और पूंजी की घटनाओं आय और लाभांश का भुगतान। प्रतिभूति जो एक शेयर बाजार पर कारोबार की जा रहा है, जिसमे सूचीबद्ध कंपनियों द्वारा जारी किए गए शेयर, यूनिट ट्रस्ट, डेरिवेटिव, जमा निवेश उत्पादों और बांड भी है। शेयर बाजारों अक्सर "निरंतर नीलामी" बाजार के रूप में कार्य करते है, जहां खरीदारों और विक्रेताओं लेनदेन के लिए एक केंद्रीय स्थान जैसे की आदान-प्रदान की मंजिल के रूप,पर मिलते है।

एक निश्चित स्टॉक एक्सचेंज पर एक प्रतिभूति व्यापार करने के लिए, वहाँ सूचीबद्ध किया जाना चाहिए। आमतौर पर, कम से कम रिकॉर्ड रखने के लिए एक केंद्रीय स्थान है, लेकिन व्यापार तेजी से कम इस तरह के एक भौतिक जगह से जुड़ा हुआ है, आधुनिक बाजार इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क का उपयोग करते है, जो उन्हें वृद्धि की गति और लेन-देन की लागत में कमी का लाभ देता है। एक मुद्रा पर व्यापार विनिमय के सदस्य हैं जो दलालों के लिए प्रतिबंधित है। हाल के वर्षों में, विभिन्न अन्य व्यापारिक स्थानों, जैसे इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क, विकल्प ट्रेडिंग सिस्टम और "अंधेरे पूल" परंपरागत शेयर बाजारों से अनेक व्यापारिक गतिविधियों को ले लिया है।

निवेशकों को शेयर और बांड की आरंभिक सार्वजनिक पेशकश प्राथमिक बाजार में किया परिभाषा के द्वारा होता है और बाद में व्यापार द्वितीयक बाजार में किया जाता है। एक शेयर बाजार में अक्सर एक शेयर बाजार का सबसे महत्वपूर्ण घटक है। शेयर बाजारों में मांग और आपूर्ति के सभी मुक्त बाजार के रूप में, कंपनियों के शेयरों की कीमत को प्रभावित करने वाले विभिन्न कारकों द्वारा संचालित कर रहे हैं।

आम तौर पर, शेयर, स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से ही जारी किए जाने के लिए कोई दायित्व नहीं है, और बाद में न ही एक्सचेंज पर कारोबार करना चाहिए। ऐसे में, व्यापार विनिमय बंद या ओवर-द-काउंटर हो सकता है। हमेशा इसी तरह डेरिवेटिव और बॉन्ड कारोबार कर रहे हैं। तेजी से, स्टॉक एक्सचेंजों एक वैश्विक प्रतिभूति बाजार का हिस्सा हैं।

इतिहास[संपादित करें]

Code of Hammurabi 47

ऋण का विचार, प्राचीन दुनिया के तारीखें से है, ब्याज असर ऋण रिकॉर्डिंग प्राचीन मेसोपोटामिया की मिट्टी की गोलियों से उदाहरण के लिए सबूत मिलत है। विद्वानों के बीच थोड़ा आम सहमति नहीं है, की जब कॉर्पोरेट शेयर पहले कारोबार कर रहा था। कुछ १६०२ में डच ईस्ट इंडिया कंपनी के संस्थापक को महत्वपूर्ण घटना के रूप देखते है, दूसरों पहले के घटनाक्रम को इंगित करते है। बर्कले में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के अर्थशास्त्री उल्रिके मालमेनडियर, का तर्क है कि एक शेयर बाजार प्राचीन रोम के रूप में अस्तित्व थे।

रोमन गणराज्य में, साम्राज्य स्थापित किया गया था इससे पहले जो सदियों से अस्तित्व में हैं, सोसैतेस पब्लिकनोरम वहाँ थे, ठेकेदारों या पट्टेदार के संगठनों जो सरकार के लिए मंदिर के निर्माण और अन्य सेवाओं प्रदर्शन करते थे।उनकी आवाज ३९० ईसा पूर्व में एक फ्ऱांस देश के आक्रमण की चेतावनी दी है के बाद ऐसा ही एक सेवा पक्षियों के लिए एक इनाम के रूप में कापिटोलइन् हिल पर कुछ कलहंस के खिला था ऐसे संगठनों में भाग लेने पारट्स या शेयर, एक अवधारणा राजनेता द्वारा विभिन्न समय का उल्लेख किया और सिसरो वक्ता था। एक भाषण में सिसरो "समय में एक बहुत ही उच्च मूल्य था कि शेयरों।" का उल्लेख है इस तरह के सबूत, मालमेनडियर के दृश्य में, उपकरणों के लिए एक संगठन की सफलता के आधार पर मूल्यों में उतार-चढ़ाव के साथ व्यापार योग्य थे पता चलता है। सोसैतस, सम्राटों के समय में अंधकार में गिरावट आई थी,उनकी सेवाओं के अधिकांश राज्य के प्रत्यक्ष एजेंटों द्वारा लिया गया था।

सुरक्षा का प्रकार के रूप में व्यापार योग्य बांड को आमतौर पर इस्तेमाल करना हाल ही में नवाचार है, जिसे देर मध्ययुगीन और जल्दी पुनर्जागरण अवधि के इतालवी शहर राज्यों से जुट गया।

मसाले के व्यापार का निर्माण करने के लिए गठित डच ईस्ट इंडिया कंपनी,औपनिवेशिक शासक के रूप में संचालित कर रहे थे, जिसे अब इंडोनेशिया केहते है, यहां इस दायरे में शोषण किया मूल निवासी की इच्छा के खिलाफ सैन्य अभियानों के संचालन और औपनिवेशिक शक्तियों प्रतिस्पर्धा भी शामिल है। कंपनी का नियंत्रण अपने निर्देशकों द्वारा कसकर आयोजित किया गया था, साधारण शेयरधारकों प्रबंधन पर ज्यादा प्रभाव नहीं या यहां तक कि कंपनी के लेखांकन बयान करने के लिए भी उपयोग नहीं था।

हालांकि, शेयरधारकों को उनके निवेश के लिए अच्छी तरह से पुरस्कृत किया गया। कंपनी १६०२-१६५० में प्रति वर्ष १६ से अधिक प्रतिशत की औसत लाभांश का भुगतान किया। एम्स्टर्डम में वित्तीय नवाचार कई रूपों ले लिया। १६०९ में, इसहाक ले मेरी के नेतृत्व में इतिहास का पहला भालू सिंडिकेट बनाया, लेकिन उनके समन्वित व्यापार, शेयर कीमतों के गिरावट में केवल एक मामूली प्रभाव पड़ा, जो १७ वीं सदी भर में मजबूत हो खड़ा। १६२० तक, कंपनी कॉरपोरेट बॉन्ड का पहला प्रयोग के साथ अपनी प्रतिभूतियों जारी करने विस्तार किया गया था।

SA 3025-De binnenplaats van de Beurs van Hendrick de Keyser

जोसेफ डी ला वेगा, यूसुफ पेन्सो डी ला वेगा के रूप में जाना जाता है और उसका नाम के अन्य रूपों से, 17 वीं सदी के एम्स्टर्डम में एक स्पेनिश यहूदी परिवार से एक एम्सटर्डम व्यापारी था और एक विपुल लेखक के साथ-साथ एक सफल व्यवसायी। उनके १६८८ के कनफुशन आफ कनफुशन शहर के शेयर बाजार के कामकाज के बारे में बतात है। यह शेयर ट्रेडिंग के बारे में जल्द से जल्द किताब थी, एक व्यापारी, एक शेयरधारक और एक दार्शनिक के बीच एक संवाद का रूप ले, परिष्कृत लेकिन ज्यादतियों के लिए भी खतरा था कि एक बाजार का पुस्तक में वर्णित किया गया है, और डी ला वेगा बाजार बदलाव की अनिश्चितता और निवेश में धैर्य के महत्व के रूप में इस तरह के विषयों पर अपने पाठकों के लिए सलाह की पेशकश की।

विलियम अपने युद्धों के लिए भुगतान करने के लिए इंग्लैंड के वित्त आधुनिकीकरण करने की मांग की, और इस तरह राज्य की पहली सरकार बांड 1693 में जारी किए गए थे और इंग्लैंड के बैंक अगले वर्ष स्थापित किया गया था। इसके तुरंत बाद, अंग्रेजी संयुक्त स्टॉक कंपनियों सार्वजनिक जाने शुरू कर दिया।

लंदन का पहला शेयर दलालों, मगर, रॉयल एक्सचेंज के रूप में जाना पुराने वाणिज्यिक केंद्र से रोक दिया गया, उनके अशिष्ट शिष्टाचार के करन। इसके बजाय, नए व्यापार विनिमय गली-साथ कॉफी हाउस से आयोजित किया गया। 1698 तक, जॉन कस्तीग नाम के एक दलाल,जोनाथन के कॉफी हाउस मे काम कर, शेयर और कमोडिटी की कीमतों में नियमित सूचियों के पोस्ट की। उन सूचियों लंदन स्टॉक एक्सचेंज की शुरुआत का प्रतीक है।

Microcosm of London Plate 075 - New Stock Exchange (tone)

इतिहास की सबसे बड़ी वित्तीय बुलबुले के एक अगले कुछ दशकों में हुई। इसके केंद्र में, सौथ सीय कंपनी थे, दक्षिण अमेरिका, और मिसिसिपी कंपनी के साथ अंग्रेजी व्यापार का संचालन करने के लिए 1711 में स्थापित की, फ्रांस के लुइसियाना कॉलोनी के साथ वाणिज्य पर केंद्रित है और प्रत्यारोपित स्कॉटिश फाइनेंसर जॉन कानून द्वारा टाल दिया, जो फ्रांस के केंद्रीय बैंकर के रूप में प्रभाव में काम कर रहा था। निवेशक दोनों के शेयरों में बोले, और जो कुछ भी उपलब्ध था। १७२० में, उन्माद की ऊंचाई पर, यहां तक कि एक की भेंट हुई थी "महान लाभ का एक उपक्रम से बाहर ले जाने के लिए एक कंपनी है, लेकिन यह क्या है पता करने के लिए कोई भी नहीं।"

यह अमेरिका से आसन्न धन की उम्मीदों को हद से ज़्यादा थे कि स्पष्ट हो गया है कि इसी वर्ष के अंत तक, शेयरों की कीमतों, टूट गया था। लंदन में, संसद बुलबुला अधिनियम पारित किया, जो कहा गया कि केवल शाही ढंग से चार्टर्ड कंपनियों को सार्वजनिक शेयर जारी कर सकता है। पेरिस में, कानून कार्यालय की छीन लिया और देश भाग गया। बाद के दशकों में शेयर ट्रेडिंग अधिक सीमित और वश में था। मगर बाजार बच गया है, और १७९० द्वारा शेयरों जवान संयुक्त राज्य अमेरिका में कारोबार किया जा रहा था।

स्टॉक एक्सचेंजों की भूमिका[संपादित करें]

शेयर बाजारों अर्थव्यवस्था में कई भूमिकाएं हैं। इसमें निम्न शामिल हो सकते हैं:

NYSE127

कारोबार के लिए पूंजी जुटाने[संपादित करें]

एक शेयर बाजार निवेश जनता के लिए शेयरों की बिक्री के माध्यम से विस्तार के लिए पूंजी जुटाने के लिए सुविधा के साथ कंपनियों प्रदान करता है।

पूंजी जुटाने की आम रूपों[संपादित करें]

बैंकिंग प्रणाली के द्वारा एक व्यक्ति या फर्म के लिए प्रदान की उधार लेने की क्षमता के अलावा, ऋण के रूप में या एक उधार में, पूंजी जुटाने की चार आम रूपों है जिसे कंपनियों और उद्यमियों द्वारा उपयोग किया जाता है। इन उपलब्ध विकल्पों में से अधिकांश एक शेयर बाजार के माध्यम से सीधे या परोक्ष रूप से प्राप्त किया जा सकता है।[1] [2] [3] [4] [5]

सन्दर्भ[संपादित करें]