सदस्य:सर्वेश नगरहा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कभी कभी हार में भी उपहार छिपा होता है। नजदीक से देखो अगर तो माँ की नफरत में भी प्यार छिपा होता है।।

सर्वेश नगरहा का जन्म उत्तर प्रदेश के प्रयाग जिले के एक छोटे से गाँव हंसराजपुर में हुवा , जिनके पिता का नाम श्री रूद्र प्रसाद मिश्र है जो संस्कृत भाषा के अध्यापक हैं एवं माता का नाम श्रीमती सरला देवी है जो कि एक गृहणी हैं। आपकी पुस्तक "रुद्रला-सपनों की जंग" जो की एक काव्य संग्रह है प्रकाशित हो चुकी है।