सक्रियण ऊर्जा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
The relationship between activation energy (E_a) and enthalpy of formation (ΔH) with and without a catalyst, plotted against the reaction coordinate. The highest energy position (peak position) represents the transition state. With the catalyst, the energy required to enter transition state decreases, thereby decreasing the energy required to initiate the reaction.

रसायन विज्ञान में, किसी रासायनिक अभिक्रिया को सम्पन्न होने के लिये जो न्यूनतम ऊर्जा आवश्यक होती है उसे सक्रियण ऊर्जा (activation energy) कहते हैं। इस शब्द का प्रयोग सबसे पहले १८८९ में स्वीडेन के वैज्ञानिक अर्हिनियस ने किया था। सक्रियण ऊर्जा को प्रायः Ea से निरूपित किया जाता है। इसकी ईकाई किलोजूल प्रति मोल (kJ/mol) या किलोकैलरी प्रति मोल (kcal/mol) है।