संरक्षा इंजीनियरी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
खतरनाक कार्य के स्थानों में दुर्घटना रोकने के लिए व्यक्तिगत संरक्षा उपकरण अत्यावश्यक हैं, विशेषकर उद्योगों में

संरक्षा इंजीनियर (सेफ्टी इंजीनियर) स्पेशलाइज होते हैं  इंजीनियरिंग कंट्रोल को डिवेलप करने में और वर्कप्लेस  की ओवरऑल हेल्थ एंड सेफ्टी एस्पेक्ट को सुनिक्षित करने में और साथ-साथ  उनका इंवॉल्वमेंट प्रोसेस सेफ्टी में भी होता है, प्लांट के प्रोसेस से रिलेटेड सेफ्टी भी सुनिश्चित करना होता है, इनका इन्वॉल्वमेंट टेक्निकल से रिलेटेड ज़्यादा होता है।  

कुछ कंपनीज में यह रोल और ज़िम्मेदारी की डिटेल्स अलग हो सकती है पोजीशन के हिसाब से, तो इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि आप किसी भी कंपनी को ज्वाइन करने से पहले वहां के रोलस और ज़िम्मेदारीबारे में अपनी इंवॉल्वमेंट कंपनी से पूछ लें