श्रेणी:सेन राजवंश के राजा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सेैन राजवंश :- सेैन राजवंश मैं ऐसे ऐसे राज हुए जिन्हें पूरी दुनिया वीरसेन , नंदवंशी ,सेन नंद मौर्य वंशी, नाई, ठाकुर ,ब्राह्मण , राजा ,सविता , धनवंतरी के नाम से जानते हैं सिंध के राजा दाहिर सेन एक हिंदू राजा थे और राजा दाहिर सेन को कोई नहीं हरा सका सेन राजवंश मैं अनेक योद्धा सम्राट अंगरक्षक हुए यह एक छत्रिय राजवंश है नंद वंश भारत का एक शक्तिशाली महान राजवंश था नंद वंश में अनेक योद्धा हुए सम्राट महापदम नंद नंद वंश के संस्थापक थे सेन राजवंश महापदम नंद के पुत्र पडुक का राजवंश था चंद्रगुप्त मौर्य भी महापदम नंद के पुत्र थे चाणक्य ने चंद्रगुप्त मौर्य को भड़काया और अपने ही भाई धनानंद को मरवा दिया चंद्रगुप्त मौर्य का पूरा नाम चंद्र नंद था चाणक्य ने चंद्र नंद नाम बदल कर चंद्रगुप्त मौर्य रख दिया और मौर्य राजवंश की नीव रखी चंद्रगुप्त मौर्य सम्राट महापद्मनंद के दस वे पुत्र थे

सेन नंदमौर्य राजवंश :- चक्रवर्ती सम्राट महापदम नंद भारत के शक्तिशाली महान क्षत्रिय सम्राट थे सेन नंद मौर्य राजवंश ने मगध साम्राज्य पर शासन किया और उन्होंने सब छोटे बड़े राज्यों को मगध में मिला लिया भारत में पहली बार ऐसे चक्रवर्ती सम्राट हुए जिन्होंने विश्व विजेता सिकंदर को घुटने टिका दिए सैन नंद मौर्य वंशी ज्यादातर हरियाणा पंजाब राजस्थान मध्य प्रदेश बिहार मैं बसे हुए हैं

सेन नंद मौर्य राजवंश के प्रमुख राजा :- चक्रवर्ती सम्राट महापदम नंद , धनानंद , चंद्रगुप्त मौर्य , बिंदुसार , अशोक महान , जीवाजी महाले , विक्रमादित्य सेन , दाहिर सेन , साहिब सिंह , उग्रसेन , धनवंतरी



"सेन राजवंश के राजा" श्रेणी में पृष्ठ

इस श्रेणी में निम्नलिखित 5 पृष्ठ हैं, कुल पृष्ठ 5