श्री रुद्रम् चमकम्

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

deependarमकम् यजुर्वेद में स्थित रुद्र (शिव) की स्तुति हेतु रचित स्तोत्र है। इसे 'श्री रुद्रम्' या 'शतरुद्रीय' या 'रुद्राध्याय' भी कहते हैं। स्तोत्र शैवों के लिये बहुत महत्वपूर्ण है। इस स्तोत्र का उल्लेख शिवपुराण में हुआ है। यह स्तोत्र देवता के नाम गिनने की प्राचीन रीति का एक उदाहरण है जो आगे चलकर 'सहस्रनाम' की संस्कृति में परिवर्तित हो गयी।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]