श्रीलंका की 15वीं विधानसभा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

श्रीलंका की 15वीं विधानसभा, 17 अगस्त 2015 को श्रीलंका में हुए आम चुनाव से चुन कर आये सदस्यों की सभा है। संसद की पहली बैठक 1 सितम्बर 2015 को हुई थी। श्रीलंका के संविधान के अनुसार विधायी कार्यकाल का अधिकतम समय पहली बैठक से 5 साल तक का होता है।

चुनाव[संपादित करें]

मतदान द्वार विजेता।
यूएनएफजीजी द्वारा   
यूपीएफए द्वारा   
टीएनए द्वारा   

17 अगस्त 2015 को 15वीं संसदीय चुनाव आयोजित किया गया था।[1][2][3][4] सत्ताधारी यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) के नेतृत्व में सुशासन के लिये संयुक्त राष्ट्र मोर्चा (यूएनएफजीजी) ने 106 सीटें जीती, जोकि 2010 के चुनाव से 46 सीटों की वृद्धि थी, हालांकि वे संसद में बहुमत सुरक्षित करने में असफल रहे।[5] मुख्य विपक्षी यूनाइटेड पीपुल्स फ्रीडम एलायंस (यूपीएफए) ने 95 सीटें जीती, 49 सीटों की गिरावट के साथ।[5][6] श्रीलंकाई तमिलों का प्रतिनिधित्व करने वाली सबसे बड़ी पार्टी, तमिल राष्ट्रीय गठबंधन (टीएनए) ने 2010 के चुनाव से दो सीटों की वृद्धि के साथ कुल 16 सीटें हासिल की।[5] शेष आठ सीटों पर जनथा विमुक्ति परमुना (6), श्रीलंका मुस्लिम कांग्रेस (1) और एलम पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (1) ने विजय हासिल की.[7]

सरकार[संपादित करें]

20 अगस्त 2015 को UPFA का मुख्य घटक, श्रीलंका फ्रीडम पार्टी (एसएलएफपी) की केंद्रीय समिति, यूएनपी के साथ मिलकर दो साल के लिए एक राष्ट्रीय सरकार बनाने के लिए सहमत हुई।[8][9] यूएनपी के नेता रानिल विक्रम सिंघे, ने के 21 अगस्त, 2015 को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।[10][11] इसके तुरंत बाद ही एक समझौता ज्ञापन में एसएलएफपी के महासचिव डुमिन्डा डिसान्याके और यूएनपी के महासचिव कबीर हाशिम द्वारा हस्ताक्षर किए गए।[12][13]

संवैधानिक संकट[संपादित करें]

26 अक्टूबर 2018 को यूपीएफए ने राष्ट्रीय सरकार से समर्थन वापस ले लिया।[14][15] यूपीएफए के नेता और राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरीसेना, ने प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे को बर्खास्त कर और उनकी जगह पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे को प्रधानमंत्री नियुक्त कर दिया.[16][17][18][19] अगले दिन सिरिसेना ने संसद को सत्रावसान कर दिया।[20][21] यूएनपी ने इसे असंवैधानिक, अवैध और एक तख्तापलट मान स्वीकार करने से इनकार कर दिया, और एक संवैधानिक संकट खड़ा हो गया।[22][23] अगले कुछ दिनों में सिरिसेना ने यूपीएफए, ईपीडीपी और यूएनपी के दलबदल सांसदों के साथ मिलकर नई कैबिनेट की नियुक्ति की।[24][25][26] यूपीएफए से दलबदल कर आये सांसदो के बावजूद जरूरी समर्थन नहीं जुटा पाये और टीएनए, जोकि संसद में तीसरे स्थान पर था, ने प्रधानमंत्री राजपक्षे सिरिसेना के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की घोषणा कर दी, सिरिसेना ने 9 जुलाई 2018 संसद भंग कर दी और 5 जनवरी 2019 को नए सिरे से चुनाव कराने के लिये कहा ।[27][28][29] यूएनपी, टीएनए, जेवीपी और कई दूसरों दलों ने फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी, जिसने 13 नवंबर 2018 को फैसला जारी कर संसद विघटन को 7 दिसंबर 2018 तक के लिये स्थगित कर दिया।[30][31][32]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "PART I : SECTION (I) — GENERAL Proclamations & C., by the President A PROCLAMATION BY HIS EXCELLENCY THE PRESIDENT OF THE DEMOCRATIC SOCIALIST REPUBLIC OF SRI LANKA" (PDF). The Gazette of the Democratic Socialist Republic of Sri Lanka Extraordinary. 1920/38. 26 June 2015. मूल (PDF) से 2015-09-23 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2015-08-21.
  2. "Sri Lanka's president dissolves parliament". BBC News. 26 June 2015.
  3. Ramakrishnan, T. (26 June 2015). "Sri Lankan Parliament dissolved". The Hindu.
  4. "Sri Lanka's President Maithripala Sirisena dissolves parliament". Times of Oman. Agence France-Presse. 26 June 2015.
  5. "Bonus seats: UNP 13, UPFA 12". The Daily Mirror. 18 August 2015.
  6. "Sri Lanka elections: UNP victory as Rajapaksa faces setback". BBC News. 18 August 2015.
  7. Ramakrishnan, T. (18 August 2015). "UNP set to form next government". The Hindu.
  8. Edirisinghe, Dasun (21 August 2015). "SLFP CC for joining national government". The Island.
  9. Bandara, Kelum (20 August 2015). "SLFP agrees to join National Govt". The Daily Mirror.
  10. Liyanawatte, Dinuka (21 August 2015). "Wickremesinghe sworn in as Sri Lankan prime minister". Reuters.
  11. Ramakrishnan, T. (21 August 2015). "Ranil Wickremesinghe sworn in as Sri Lankan Prime Minister". The Hindu.
  12. "UNP and SLFP sign MoU". The Daily Mirror. 21 August 2015.
  13. "SLFP & UNP sign MoU to form National Govt". Sri Lanka Guardian. 21 August 2015.
  14. "Sri Lanka president's party quits ruling coalition". Gulf News. Dubai, U.A.E. Agence France-Presse. 27 October 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  15. "UPFA withdraws from Govt". The Daily Mirror. Colombo, Sri Lanka. 26 October 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  16. "Sri Lanka in political turmoil after prime minister Wickremesinghe sacked". The Guardian. London, U.K. 27 October 2018. अभिगमन तिथि 28 October 2018.
  17. "Sri Lanka plunges into crisis as President Maithripala Sirisena sacks Prime Minister Ranil Wickremesinghe". The Straits Times. Singapore. Agence France-Presse. 26 October 2018. अभिगमन तिथि 28 October 2018.
  18. "Sri Lanka: Mahinda Rajapaksa, former president, named as PM". BBC News. London, U.K. 26 October 2018. अभिगमन तिथि 28 October 2018.
  19. "Sri Lanka President Maithripala Sirisena sacks Prime Minister, appoints 'strongman' Mahinda Rajapaksa". ABC News. Sydney, Australia. Associated Press. 27 October 2018. अभिगमन तिथि 28 October 2018.
  20. Srinivasan, Meera (27 October 2018). "Sri Lanka political crisis: President Sirisena prorogues parliament as Wickremesinghe seeks session". The Hindu. Chennai, India. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  21. "Sri Lanka president suspends parliament amid political crisis". Al Jazeera. Doha, Qatar. 27 October 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  22. Abi-Habib, Maria; Bastians, Dharisha (26 October 2018). "Sri Lanka Faces Constitutional Crisis as President Unseats Prime Minister". The New York Times. New York, U.S.A. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  23. "Sri Lanka's president sacks PM, sparking constitutional crisis". Special Broadcasting Service (27 October 2018). Sydney, Australia. Agence France-Presse. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  24. Mallawarachi, Bharatha (29 October 2018). "Sri Lanka's president swears in new Cabinet amid deepening political crisis". The Globe and Mail. Toronto, Canada. Associated Press. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  25. Srinivasan, Meera (1 November 2018). "Sri Lanka's new Cabinet expanded". The Hindu. Chennai, India. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  26. "New ministers sworn in". News First. Colombo, Sri Lanka. 9 November 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  27. Rasheed, Zaheena; Kuruwita, Rathindra (9 November 2018). "Sri Lanka president dissolves parliament, sets January snap poll". Al Jazeera. Doha, Qatar. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  28. "Sri Lanka's president calls snap election in bid to end power struggle". The Guardian. London, U.K. Agence France-Presse. 10 November 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  29. "Sri Lanka's President Sirisena moves to dissolve parliament". BBC News. London, U.K. 9 November 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  30. Dwyer, Colin (13 November 2018). "Sri Lankan Supreme Court Blocks President's Bid To Dissolve Parliament". NPR. Washington, D.C., U.S.A. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  31. "Sri Lanka Supreme Court overturns dissolution of parliament". Al Jazeera. Doha, Qatar. 13 November 2018. अभिगमन तिथि 14 November 2018.
  32. Chaudhury, Dipanjan Roy (14 November 2018). "Setback for President Sirisena as Lankan Supreme Court stays his order". The Economic Times. Mumbai, India. अभिगमन तिथि 14 November 2018.