शिखर शीलता

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
प्लाजा सैन मार्टिन (ब्यूनस आयर्स), अर्जेंटीना में शिखर शीलता

शिखर शीलता या शिखर-शीलता (अंग्रेजी:Crown shyness), कुछ वृक्ष प्रजातियों में देखी गई एक घटना है, जिसमें सघन रूप से उगे पेड़ों के शिखर एक दूसरे को नहीं छूते हैं, और वाहिकाओं के सदृश अंतराल से युक्त वितानी की रचना करते हैं।[1][2] अमूमन यह घटना एक ही प्रजाति के पेड़ों में सबसे अधिक देखी गयी है, लेकिन विभिन्न प्रजातियों के पेड़ों के बीच भी देखी जा सकती है।[3] इससे संबद्ध कई परिकल्पनाएँ मौजूद हैं कि क्यों शिखर शीलता होना एक अनुकूल व्यवहार है, और शोध से पता चलता है कि यह पत्ती खाने वाले कीट लार्वा के प्रसार को रोक सकता है।[4]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Norsiha A. and Shamsudin (2015-04-25). "Shorea resinosa : Another jigsaw puzzle in the sky". Forest Research Institute Malaysia.
  2. H Fish, VJ Lieffers, U Silins, RJ Hall (2006). "Crown shyness in lodgepole pine stands of varying stand height, density and site index in the upper foothills of Alberta". Canadian Journal of Forest Research. 36 (9): 2104–2111. डीओआइ:10.1139/x06-107.
  3. K. Paijmans (1973). "Plant Succession on Pago and Witori Volcanoes, New Britain" (PDF). Pacific Science. University of Hawaii Press. 27 (3): 60–268. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0030-8870.
  4. "Tropical Rain Forest". Woodland Park Zoo. पृ॰ 37.