शरमिन्दगी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

शरमिन्दगी एक भावनात्मक स्थिति है जिसमें आमतौर असुविधा या बेचैनी का अनुभव होता है जब कोई सामाजिक रूप से अस्वीकार्य या गलत समझा जाना वाला कार्य या स्थिति कोई दूसरा व्यक्ति देख लें या प्रकट हो जाए। आम तौर पर इसमें सम्मान या गरिमा (या अन्य उच्च मूल्य वाले आदर्शों) के नुकसान की कुछ धारणा शामिल है, लेकिन शरमिन्दगी का स्तर और प्रकार स्थिति पर निर्भर करता है। शरमिन्दगी कुछ हद तक शर्म की तरह है, सिवाय इसके कि शरमिन्दगी आमतौर पर एक ऐसे कृत्य के कारण होने का अर्थ है जो नैतिक रूप से गलत ना होते हुए सामाजिक रूप से गलत है।

कारण[संपादित करें]

निजी मामलों या व्यक्तिगत त्रुटियों या दुर्घटनाओं पर अवांछित ध्यान के कारण शरमिन्दगी व्यक्तिगत हो सकती है। व्यक्तिगत कार्यों से शरमिन्दगी के कुछ कारण, जैसे झूठ बोलते या गलती करते पकड़े जाना। कई संस्कृतियों में, नग्न या अंडरवियर में देखा जाना शरमिन्दगी का एक विशेष रूप से तनावपूर्ण रूप है। व्यक्तिगत शरमिन्दगी उन लोगों के कार्यों से भी हो सकती है जो शरमिन्दा व्यक्ति को सामाजिक रूप से अजीब परिस्थिति में डालते हैं - जैसे माता-पिता बच्चों की बचपन की तस्वीरों को मित्रों को दिखाते हैं, किसी के द्वारा किसी की उपस्थिति या व्यवहार के बारे में अपमानजनक टिप्पणी करना, किसी अन्य व्यक्ति द्वारा अस्वीकार किया जाना, ध्यान का पात्र बनना (उदाहरण के लिए, जन्मदिन का जश्न, या नवविवाहित), या यहाँ तक कि किसी और की शरमिन्दगी भी देखते समय।

कभी-कभी शरमिन्दा व्यक्ति मुस्कान या हँसी के साथ शरमिन्दगी को छुपाने की कोशिश करता है। स्थिति की अनुमानित गंभीरता के आधार पर क्रोध की भावना भी हो सकती है, खासकर अगर व्यक्ति सोचता है कि कोई अन्य व्यक्ति जानबूझकर शरमिन्दगी पैदा कर रहा है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]