शंट (विद्युत)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
५० अम्पीयर वाला एक शन्ट

शन्ट (shunt), विद्युत परिपथ मे लगायी जाने वाली एक युक्ति है जिसके मुख्यतः दो उपयोग हैं- (१) परिपथ की किसी शाखा से होकर जाने वाली धारा को दूसरे मार्ग से भेजना, (२) परिपथ की किसी शाखा में बहने वाली धारा का मापन करना।

किसी गैल्वानोमीटर की क्वायल के समान्तर शन्ट लगाकर उसे अमीटर में बदला जाता है। यदि किसी अमीटर का परास (रेंज) बढ़ाना हो तो उसके क्वायल के समान्तर उचित प्रतिरोध वाला एक शन्ट जोड़ा जाता है। परिपथ की किसी शाखा में बहने वाली धारा मापने के लिए उस शाखा के श्रेणीक्रम (सीरीज) में एक कम प्रतिरोध वाला शन्ट जोड़ा जाता है। धारा बहने से इस प्रतिरोध के दोनों सिरों के बीच उत्पन्न विभवान्तर इस शाखा में बहने वाली विद्युत धारा के समानुपाती होता है। शंट के उपयोग से धारामापी की सुग्राहिता कम हो जाती है।

इन्हें भी देखें शन्ट वाटर कूल्ड और एयर कूल्ड होता है|अत्याधिक धारा प्रवाह के लिए ज़ेरानिन और मेग्गानिन मटेरियल का उस करते है जो की तापमान के साथ अपने प्रतिरोध में कोई परिवर्तन नही करता है|[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]