शंकर केशव कानेटकर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

शंकर केशव कानेटकर (२८ अक्टूबर १८९३ - १९७४) मराठी के सुप्रसिद्ध कवि।

कानेतकर का जन्म 28 अक्टूबर 1893 ई. को फत्यापुर, रहिमतपुर, जिला सतारा में हुआ। आपने एम.ए. की परीक्षा उत्तीर्ण की और लेखनकार्य में जुट गए। 'अभागी कमल' (1923 ई.), 'अंबाराय' (1928), 'कांचनगंगा' (1930), 'चंद्रलेखा' (1951) तथा 'अनिकेत' (1955) इत्यादि आपके प्रकाशित काव्यग्रंथ हैं। 'नाट्यछटा' (1939 ई.) नामक एक आलोचनात्मक ग्रंथ का भी आपने प्रणयन किया है। 4 दिसम्बर 1973 ई. को 80 वर्ष की आयु में आपका देहावसान हो गया।