वृत्ताकार कक्षा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
दो वस्तुएँ अपने सांझे संहति-केन्द्र की गोलाकार (वृत्ताकार) कक्षाओं में परिक्रमा करते हुए

खगोलशास्त्र में वृत्ताकार कक्षा (circular orbit) एक ऐसी केप्लर कक्षा होती है जिसकी कक्षीय विकेन्द्रता ठीक शून्य है, यानि पूरी तरह गोलाकार है। दीर्घवृत्त कक्षा इस से भिन्न होती है, क्योंकि उसकी कक्षाएँ दीर्घवृत्त आकार की हो सकती हैं।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. D’Eliseo, MM; Mironov, Sergey V. (2009). "The gravitational ellipse". Journal of Mathematical Physics. 50: 022901–022901. arXiv:0802.2435free to read. Bibcode:2009JMP....50a2901M. doi:10.1063/1.3078419.
  2. Curtis, Howard (2009). Orbital Mechanics for Engineering Students. Butterworth-Heinemann. ISBN 978-0123747785.