विश्व स्मृति कार्यक्रम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
विश्व स्मृति कार्यक्रम की का प्रतीक

युनेस्को का विश्व स्मृति कार्यक्रम एक अन्तरराष्ट्रीय पहल है जो मानवता की दस्तावेजी विरासत की रक्षा के लिए शुरू की गई है ताकि सामूहिक स्मृतिलोप, उपेक्षा, समय एवं जलवायु परिस्थितियों के कारण होने वाला विनाश और जानबूझकर तथा सोचसमझकर किए गये विनाश आदि के संकटों से इनकी रक्षा की की जा सके। [1] यह कार्यक्रम पूरे विश्व के मूल्यवान अभिलेखीय संग्रहों , पुस्तकालयों के संग्रहों, और निजी संग्रहों के संरक्षण के उद्देश्य से बनाया गया है और बिखरे हुए या या विस्थापित दस्तावेजी विरासत के पुनर्गठन, और इन दस्तावेजों की अधिकाधिक उपलब्धता, एवं इनमें लिपिबद्ध ज्ञान के प्रसार में वृद्धि की दिशा में कार्य करता है। [1] [2] [3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "UNESCO Memory of the World Programme: The Asia-Pacific Strategy". UNESCO Memory of the World Programme. मूल से 2005-02-28 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2017-08-01.
  2. "Official website". UNESCO. अभिगमन तिथि 2017-08-10.
  3. "Twenty-three new inscriptions on Memory of the World Register of Documentary Collections". UNESCO Press. 2003-09-01. अभिगमन तिथि 2009-09-06.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]