"भट्टिकाव्य": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
16 बैट्स् नीकाले गए ,  11 वर्ष पहले
छो
Removing {{आधार}} template using AWB (6839)
छो (साँचा {{आधार}})
छो (Removing {{आधार}} template using AWB (6839))
 
{{आधार}}
 
'''भट्टिकाव्य''' महाकवि [[भट्टि]] की कृति है। इसका वास्तविक नाम रावणवध है। इसमें भगवान् [[राम|रामचंद्र]] की कथा जन्म से लगाकर लंकेश्वर रावण के संहार तक उपवर्णित है। यह महाकाव्य [[संस्कृत]] [[साहित्य]] के दो महान परम्पराओं - [[रामायण]] एवं [[पाणिनि|पाणिनीय]] [[व्याकरण]] का मिश्रण होने के नाते कला और विज्ञान का समिश्रण जैसा है। अत: इसे साहित्य में एक नया और साहसपूर्ण प्रयोग माना जाता है।
[[es:Literatura sánscrita]]
[[id:Sastra Sanskerta]]
[[it:Letteratura sanscrita]]
[[la:Litterae Sanscritae]]
[[pl:Literatura sanskrycka]]
[[it:Letteratura sanscrita]]
5,01,128

सम्पादन

नेविगेशन मेन्यू