"दन्त्य व्यंजन" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
58 बैट्स् जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
छो
(नया पृष्ठ: दन्त्य ध्वनियाँ वो होती हैं जिनके उच्चारण में जीभ दांतों के पिछ...)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन large unwikified new article
 
छो (HotCat द्वारा श्रेणी:व्यंजन (भाषा) जोड़ी)
"ऩ" की ध्वनि लगभग न होने के बराबर पाई जाती है लेकिन आम तौर पर इसका उच्चारण भारत के गायक अपनी गायकी में कर जाते हैं और उन्हें पता भी नहीं चलता।
जब आप कभी राहत फ़तह अली खान का कोई गीत सुनेंगे तो ध्यान दीजिए कि वो "न" को बड़ी कोमलता से उच्चारित कर जाता है और उसकी ध्वनि कुछ "र्ँ" करके आती है। वही "ऩ" ठीक उच्चारण है। और ये लगभग दंतव्य ध्वनि है।
 
[[श्रेणी:व्यंजन (भाषा)]]

दिक्चालन सूची