विद्युतवाहक बल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भौतिकी में मोटे तौर पर विद्युतवाहक बल (electromotive force, या emf) वह कारण है जो विद्युत धारा (या एलेक्ट्रॉन / आयन) को परिपथ में प्रवाहित करता है।

किन्तु विद्युतवाहक बल की औपचारिक परिभाषा इस प्रकार है :

किसी परिपथ के दो खुले सिरों (टर्मिनल्स) के बीच ईकाई आवेश को प्रवाहित करने में किये गये कार्य की मात्रा को उन दो बिन्दुओं के बीच का विद्युतवाहक बल कहते हैं।

विद्युत वाहक बल का मात्रक वोल्ट है।

वोल्टीय सेल, विद्युतउष्मीय युक्तियाँ, सौर सेल, विद्युत जनित्र, फान डी ग्राफ आदि कुछ विद्युतवाहक बल उत्पन्न करने वाले सामान हैं।

कुछ सेलों के विद्युत वाहक बल[संपादित करें]

विवाब (EMF) सेल का रसायन प्रचलित नाम
एनोड विलायक, विद्युत-अपघट्य कैथोड
1.2 V कैडमियम जल, पोटैशियम हाइडाक्साइड NiO(OH) निकल-कैडमियम
1.2 V Mischmetal (hydrogen absorbing) Water, potassium hydroxide Nickel nickel–metal hydride
1.5 V Zinc Water, ammonium or zinc chloride Carbon, manganese dioxide Zinc carbon
2.1 V Lead Water, sulfuric acid Lead dioxide Lead–acid
3.6 V to 3.7 V Graphite Organic solvent, Li salts LiCoO2 Lithium-ion
1.35 V Zinc Water, sodium or potassium hydroxide HgO Mercury cell

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  • Electromotive Force in Inductors - Interactive Java Tutorial National High Magnetic Field Laboratory
  • Hai, Pham Nam; Ohya, Shinobu; Tanaka, Masaaki; Barnes, Stewart E.; Maekawa, Sadamichi (2009-03-08). "Electromotive force and huge magnetoresistance in magnetic tunnel junctions". Nature. 458 (7237): 489. PMID 19270681. डीओआइ:10.1038/nature07879. अभिगमन तिथि 2009-03-10.