विकिपीडिया:विघटनकारी सम्पादन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Nutshell.png इस लेख का सार: विघटनकारी सम्पादकों को सम्पादन करने से अनिश्चित काल तक के लिये प्रतिबंधित किया जा सकता है।

विघटनकारी सम्पादन सम्पादनों के उस पैर्टन को कहते हैं जो लंबे समय तक कई लेखों में प्रचलित हो सकता है जिससे किसी लेख को सुधारने या विश्वकोश को बनाने की प्रगति को बाधा पहुँचती है। विघटनकारी सम्पादन बर्बरता नहीं है, हालांकि बर्बरता विघटनकारी है। यह ध्यान में रख कर प्रत्येक मामले को स्वतंत्र रूप से देखा जाना चाहिए कि क्या वो कार्य विकिपीडिया की नीतियों और दिशानिर्देशों का उल्लंघन करते हैं (यदि कोई सम्पादक ऐसे परिस्थितियों को जो स्पष्ट रूप से बर्बरता नहीं है बर्बरता मानता है, तो वह संभावित संपादकों को विमुख कर या भगा कर विश्वकोश को नुकसान पहुँचा सकता है)।

विघटनकारी संपादन हमेशा जानबूझकर नहीं होता है। संपादक गलती से विघटनकारी हो सकते हैं क्योंकि उन्हें सही ढंग से संपादन करने की समझ नहीं है या उनमें सहयोगी रूप से काम करने के लिए आवश्यक सामाजिक कौशल या क्षमता की कमी है। यह सच्चाई कि विघटन अच्छी नीयत में भी होता है, इस तथ्य को नहीं बदलता है कि यह विकिपीडिया के लिए हानिकारक है।

सारांश[संपादित करें]

विकिपीडिया की सफलता का ज्यादातर श्रेय इसके खुलेपन को जाता है। यही खुलापन, हालांकि, कभी-कभी लोगों को आकर्षित करता है जो अपने दृष्टिकोण, मूल शोध को डालना चाहते हैं या हिमायती बनके या आत्म-प्रचार करके साइट का मंच के रूप में शोषण करना चाहते हैं। हालांकि उल्लेखनीय अल्पसंख्यक विचारों का स्वागत है यदि उनका विश्वसनीय स्रोतों के माध्यम से सत्यापन किया जाता है और रचनात्मक संपादक भी कभी-कभी गलतियां करते हैं। कभी-कभी विकिपीडिया संपादक लगातार एक पृष्ठ या पृष्ठों के समूह को संपादित करके दीर्घकालिक समस्याएं पैदा करता है। मुख्य तौर पर ऐसी जानकारी डालना जो विश्वसनीय स्रोतों के माध्यम से सत्यापित नहीं है और अल्पसंख्यक दृश्य को अनुचित वजन देने पर जोर देना।

सामूहिक रूप से विघटनकारी संपादक विकिपीडिया का संदर्भ स्रोत के रूप में उसकी विश्वसनीयता को खराब करके नुकसान पहुँचाता है। साथ ही जब कोई विघटनकारी संपादक दंड-मुक्ति के साथ कायम हो, तो कई उत्पादक पूर्ण संपादक धैर्य खोकर हताशा में प्रोजेक्ट को छोड़ सकते हैं। विघटनकारी संपादन के पैटर्नों को पहचानना आवश्यक है। 24 घंटे की अवधि के दौरान ही सभी विघटनकारी संपादन नहीं हो सकते हैं और जरूरी नहीं कि उसमें एक ही कार्य का दोहराव हो। फिर भी समय के साथ कई संपादनों का एक ऐसा पैटर्न हो सकता है जो परियोजना को गंभीरता से बाधित करता है।

विघटनकारी संपादन के उदाहरण[संपादित करें]

यह दिशानिर्देश मौलिक नीतियों के घोर, स्पष्ट और दोहराए गए उल्लंघनों से संबंधित है।

विघटनकारी संपादक ऐसा संपादक होता है जो निम्नलिखित प्रवृत्तियों का प्रदर्शन करता है:

  1. पक्षपातपूर्ण है: अन्य संपादकों के विरोध के बावजूद विस्तारित समय के लिए एक निश्चित बिंदु का पीछा करते हुए किसी लेख या लेखों के समूह पर सम्पादन जारी रखना। पक्षपातपूर्ण संपादन में केवल सामग्री जोड़ना ही शामिल नहीं है। उसमें अन्य संपादकों द्वारा पोस्ट किए गए विश्वसनीय स्रोत समर्थित सामग्री का विलोपन दोहराया जाना भी है।
  2. विकिपीडिया:सत्यापनीयता को पूरा न कर पाना: स्रोतों का हवाला देने में विफल रहना, अज्ञानकोशीय स्रोतों का हवाला देना, विश्वसनीय स्रोतों का गलत विवरण देना या मूल शोध का निर्माण करते रहना।
  3. सर्वसम्मति निर्माण में संलग्न नहीं होना:
    क. बार-बार अन्य संपादकों के सवालों या आपत्तियों के बारे में स्पष्टीकरण वाले अनुरोधों को अस्वीकार कर देना।
    ख. बार-बार अन्य संपादकों के संपादनों के स्पष्टीकरणों की उपेक्षा करना।
  4. सामुदायिक इनपुट को अस्वीकार या उपेक्षित करना: निष्पक्ष संपादकों के विरोध के बावजूद एक निश्चित बिंदु के अनुसरण में संपादन करना जारी रखना।

ध्यान रखें कि ये सिर्फ उदाहरण है। जरूरी नहीं कि अगर कोई सम्पादक के सम्पादन इसमें नहीं आते तो वो विघटनकारी नहीं है। कॉमन सेंस के प्रयोग कर के ये देखा जाना चाहिए कि क्या क्या विघटनकारी है।

अवरुद्ध और प्रतिबंध[संपादित करें]

  • विघटनकारी संपादन के परिणामस्वरूप चेतावनी और उसके बाद बढ़ते हुए ब्लॉक हो सकते हैं जो कि आमतौर पर 24 घंटों के साथ शुरू होते हैं।
  • मुख्य रूप से व्यवधान के लिए उपयोग किए गए खाते को अनिश्चित काल तक अवरुद्ध किया जा सकता है।