लज्जा गोस्वामी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लज्जा गोस्वामी
जन्म 28 सितम्बर 1988
जितोडिया, आणंद जिला, गुजरात, भारत
व्यवसाय निशानेबाज, गुजरात पुलिस में निरिक्षक
माता-पिता तिलकगिरी गोस्वामी (पिता)

लज्जा गोस्वामी (जन्म 28 सितम्बर 1988), एक भारतीय महिला निशानेबाज हैं। उन्होंने 2010 राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीता था। वे एक पूर्व राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) कैडेट है। उन्होंने रक्षा मंत्री का पदक जीता। उन्होंने स्पेन के ग्रेनेडा में आईएसएसएफ विश्व कप (2013) में महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3 पोजिशन स्पर्धा में रजत पदक भी जीता है। उन्होंने बीजिंग ओलिंपिक में भी भाग लिया था मगर कोई पदक जीतने में नाकाम रही थीं। उन्होंने 2014 के एशियाई खेलों में भी हिस्सा लिया और शीर्ष 8 में रहीं।

वह गुजरात राज्य की एक ब्रांड एंबेसडर हैं और खेल कोटा में गुजरात पुलिस कैडर में पुलिस निरीक्षक के रूप में नियुक्त होने वाली पहली खिलाड़ी बनीं।[1]

प्रारम्भिक जीवन[संपादित करें]

उनका जन्म गुजरात के आनंद जिला से 6 किमी दूर स्थित एक छोटे से गाँव जितोडिया में हुआ था। उनके पिता तिलकगिरी गोस्वामी, गुजरात पुलिस में एसआई पद पर सेवा दे चुके हैं। उनके अनुसार लज्जा को बचपन से ही बंदूकों से खेलने का शौक था। निशानेबाजी में उनकी प्रतिभा तब केंद्रित हो गई जब उन्होंने एक कैडेट के रूप में एनसीसी में दाखिला लिया। उन्होंने पुणे में एक बहुत ही प्रमुख भारतीय निशानेबाजी कोच, श्री सनी थॉमस से शूटिंग के लिए प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

करियर[संपादित करें]

2010 राष्ट्रमंडल खेलों में लज्जा गोस्वामी ने ५०० मीटर की निशानेबाजी में रजत पदक जीता था।[2] स्पेन के ग्रेनेडा में हुए 2013 आईएसएसएफ विश्‍व कप में उन्हें रजत कप से ही सन्तोष करना पड़ा था।[3] 2014 में ग्लास्गो में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में उन्हें कांस्य पदक प्राप्त हुआ था।[4] हनोवर (जर्मनी) में हुए 2015 के अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाजी प्रतियोगिता में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता था।

गोस्वामी को 2014 में गुजरात पुलिस बल में पुलिस निरीक्षक के रूप में नियुक्त किया गया था। लज्जा को खेल प्रशिक्षण के लिए गुजरात पुलिस का ब्रांड एंबेसडर भी नियुक्त किया गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव एस के नंदा ने कहा, "वे पुलिसकर्मियों और जनता, विशेष रूप से सुरक्षा विभाग, गृह विभाग द्वारा सार्वजनिक आउटरीच कार्यक्रम के तहत महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदान करेगी।"[5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. अब लज्जा के निशाने पर होंगे अपराधी
  2. राष्ट्रमंडल खेल:2010
  3. लज्जा गोस्वामी को आईएसएसएफ विश्वकप टूर्नामेंट-2013 के 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन स्पर्द्धा का रजत
  4. कॉमनवेल्थ गेम्स: निशानेबाजी में लज्जा गोस्वामी को कांस्य पदक
  5. "शूटर लज्जा गोस्वामी अब इंस्पेक्टर हैं (अंग्रेजी में)". अहमदाबाद मिरर. अभिगमन तिथि 14 फरवरी 2014.