रेती

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रेती ( File ) एक ऐसा औजार है जो कि किसी भी Workpiece से अतिरिक्त मटेरियल हटाने के काम आता है. किसी भी Workpiece से मटेरियल हटाने के लिए उसके ऊपर रेती को घिसाया जाता है. और अतिरिक्त मटेरियल को Workpiece से हटाया जाता है.रेती फिटर का एक मुख्य औजार होता है. लकड़ी का काम करने वाले और धातु का काम करने वाले और इससे संबंधित कोई भी दूसरा काम करने वाले व्यक्ति इसका इस्तेमाल करते हैं.


अगर आप Iti से डिप्लोमा कर रहे हैं तो आप को रेती के बारे में जानकारी होना बहुत ही जरूरी है. और अगर आप फिटर ट्रेड से अपनी ITI कर रहे हैं तो आपको इससे संबंधित ज्यादा से ज्यादा जानकारी पढ़ने चाहिए. इस पोस्ट में हम आपको रेती से संबंधित पूरी जानकारी देने वाले हैं. रेती क्या है इसका इस्तेमाल कहां होता है और रेती कितने प्रकार की होती है यह सब जानकारी नीचे विस्तारपूर्वक बताएं गई है.

रेती के भाग रेती दिखने में आपको एक साधारण औजार लगती है लेकिन इसके कई भाग होते हैं. रेती हाई कार्बन स्टील से बनी होती हैं. और इसे Hardened तथा Tempered किया जाता है ताकि यह और मजबूत बन सके. लेकिन इसका Tang भाग कठोर नहीं किया जाता इसे हैंडल डालने के लिए नरम छोड़ दिया जाता है.


Handle : हैंडल का इस्तेमाल रेती को पकड़ने के लिए किया जाता है और प्लास्टिक या लकड़ी का बना होता है Ferrule: हैंडल को फटने से बचाने के लिए उसके आगे एक धातु का छल्ला लगा दिया जाता है. जिसे फैरुल कहते हैं Tang : यह रेती का वह भाग है जिस पर हैंडल को चढ़ाया जाता है. यह पूरी रेती का नर्म भाग होता है . Shoulder : यह रेती का वह भाग होता है जो की टैंग और बॉडी को आपस में जोड़ता है . Heel : यह रेती का वह भाग है जन्हा पर दांते नहीं कटे होते . Face : यह रेती का मुख्य भाग है जन्हा दांते होते है Tip Or Point : यह रेती का अंतिम सिरा होता है जो की ज्यादातर टेपर होता है . रेती कितने प्रकार की होती है रेती क्या इस्तेमाल लकड़ी का काम करने वाले और धातु का काम करने वाले व्यक्ति करते हैं. लेकिन हर एक धातु को अलग अलग तरीके से घिसाया जाता है और उसे किसी वस्तु का रुप दिया जाता है. इसीलिए रेती कई प्रकार की बनाई जाती है ताकि हर एक वस्तु को आसानी से बनाया जा सके. रेती आकार के अनुसार, लंबाई के अनुसार, कट के अनुसार और ग्रेड के अनुसार बनाया जाता है लेकिन इनके आगे भी रेती कई प्रकार की होती है.