रिउम्याटोलोजी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रुमेटोलॉजी (ग्रीक ῥεῦμα, rheûma, फ्लोइंग करंट) आमवाती रोगों के निदान और उपचार के लिए समर्पित दवा की एक शाखा है।  रुमेटोलॉजी में औपचारिक प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले चिकित्सकों को रुमेटोलॉजिस्ट कहा जाता है।  रुमेटोलॉजिस्ट मुख्य रूप से मस्कुलोस्केलेटल सिस्टम, कोमल ऊतकों, ऑटोइम्यून रोगों, वास्कुलिटाइड्स और विरासत में मिले संयोजी ऊतक विकारों के प्रतिरक्षा-मध्यस्थता विकारों से निपटते हैं।

इनमें से कई बीमारियों को अब प्रतिरक्षा प्रणाली के विकार के रूप में जाना जाता है।  रुमेटोलॉजी को मेडिकल इम्यूनोलॉजी का अध्ययन और अभ्यास माना जाता है।

2000 के दशक की शुरुआत में, बायोफार्मास्युटिकल्स (जिसमें टीएनएफ-अल्फा के अवरोधक, कुछ इंटरल्यूकिन और जेएके-एसटीएटी सिग्नलिंग मार्ग शामिल हैं) को देखभाल के मानकों में शामिल करना आधुनिक रुमेटोलॉजी में सर्वोपरि विकासों में से एक है।[1]

संंदर्भ[संपादित करें]

  1. Upchurch, Katherine S.; Kay, Jonathan (2012-12-01). "Evolution of treatment for rheumatoid arthritis". Rheumatology. 51 (suppl_6): vi28–vi36. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 1462-0324. डीओआइ:10.1093/rheumatology/kes278.