राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

राष्‍ट्रीय उच्‍चतर शिक्षा अभियान (RUSA/रूसा) भारत सरकार की एक प्रायोजित योजना है जिसे राज्‍यों के पात्र उच्‍चतर शैक्षिक संस्‍थाओं को वित्‍तपोषित करने के उद्देश्‍य से वर्ष 2013 में प्रारंभ किया गया था।

उद्देश्‍य एवं विशेषताएँ[संपादित करें]

  • निर्धारित मापदंडों को सुनिश्चित करते हुए राज्‍य संस्‍थाओं की समग्र गुणवत्‍ता में सुधार करना और प्रत्‍यायन को अनिवार्य गुणवत्‍ता आश्‍वासन कार्यढांचे के रूप में अंगीकार करना।
  • राज्‍य स्‍तर पर योजना और मॉनीटरिंग के लिए सांस्‍थानिक ढांचे का निर्माण करके, राज्‍य विश्‍वविद्यालयों में स्‍वायत्‍ता प्रोत्‍साहित करके और संस्‍थाओं के अभिशासन में सुधार करके राज्‍य उच्‍चतर शिक्षा प्रणाली में परिवर्तनकारी सुधार करना।
  • संबंधन, शैक्षिक और परीक्षा प्रणाली में सुधारों को सुनिश्चित करना।
  • सभी उच्‍चतर शैक्षिक संस्‍थाओं में गुणत्‍तायुक्‍त संकाय की पर्याप्‍त उपलब्‍धता को सुनिश्चित करना और रोजगार के सभी स्‍तरों में क्षमता निर्माण को सुनिश्चित करना।
  • उच्‍चतर शैक्षिक संस्‍थाओं को अनुसंधान और नवाचार के क्षेत्र में समर्पित करने के लिए योग्‍य पर्यावरण का निर्माण करना।
  • वर्तमान संस्‍थाओं में अतिरिक्‍त क्षमता का निर्माण करके सांस्‍थानिक आधार को विस्‍तार प्रदान करना और नामांकन लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने के लिए नए संस्‍थानों को स्‍थापित करना।
  • असेवित और अल्‍पसेवित क्षेत्रों में संस्‍थाओं को स्‍थापित करके उच्‍चतर शिक्षा में पहुंच बनाने में क्षेत्रीय असंतुलनों को संतुलित करना।
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति और सामाजिक और शैक्षिक रूप से पिछड़े वर्गों को उच्‍चतर शिक्षा के पर्याप्‍त अवसर प्रदान करके उच्‍चतर शिक्षा के क्षेत्र में समानता में सुधार करना; महिलाओं, अल्‍पसंख्‍यकों और नि:शक्‍तजनों के समावेशन को प्रोत्‍साहित करना।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]