राष्ट्रिय गणित दिवस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
2012 का भारतीय डाक टिकट राष्ट्रीय गणित दिवस और रामानुजन की विशेषता के लिए समर्पित है

भारत सरकार ने 22 दिसंबर को राष्ट्रीय गणित दिवस घोषित किया।भारत के 14वें और तात्कालिक प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 26 फरवरी 2012 को मद्रास विश्वविद्यालय में भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन (22 दिसंबर 1887- 26 अप्रैल 1920) के जन्म की 125 वीं वर्षगांठ के समारोह के उद्घाटन समारोह के दौरान 22 दिसंबर को राष्ट्रीय गणित दिवस[1] मनाए जाने कि घोषणा की। इस अवसर पर सिंह ने यह भी घोषणा की कि 2012 को राष्ट्रीय गणित वर्ष के रूप में मनाया जाएगा।

तब से, हर वर्ष भारत में राष्ट्रीय गणित दिवस कलों और विश्वविद्यालयों में कई शैक्षिक कार्यक्रमों के साथ मनाया जाता है। 2017 में, आंध्र प्रदेश के चित्तूर में कुप्पम में रामानुजन मठ पार्क के खुलने से दिन का महत्व और ज्यादा बढ़ गया।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Kumar, Sandeep. "राष्ट्रीय गणित दिवस 2019: कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है? | National Mathematics Day in Hindi". HaxiTrick - सब कुछ सीखें हिन्दी में. अभिगमन तिथि 2019-12-21.
    1. Kumar, Sandeep. "राष्ट्रीय गणित दिवस 2019: कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है? | National Mathematics Day in Hindi". HaxiTrick - सब कुछ सीखें हिन्दी में. अभिगमन तिथि 2019-12-21.