सामग्री पर जाएँ

राजा रिंचन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
रिंचन शाह
सदरुद्दीन शाह
1st Sultan of Kashmir
शासनावधि1320 – 1323
पूर्ववर्तीSūhadeva (as Maharaja of Kashmir)
उत्तरवर्ती
निधन1323
Srinagar, Kashmir Sultanate
(present-day Srinagar, Jammu and Kashmir, India)
जीवनसंगीकोट रानी
संतानHaidar Khan
शासनावधि नाम
Sadr-ud-Din Shah
धर्मSunni Islam (formerly Buddhism)

राजा रिंचन (अंग्रेज़ी:Raja Rinchan) सदरुद्दीन शाह, जिसे रिंचन के नाम से भी जाना जाता है, कश्मीर का पहला मुस्लिम शासक था।[2] उन्होंने 1320 से 1323 तक कश्मीर पर शासन किया। उन्हें उनके नाम के विभिन्न संस्करणों से जाना जाता है: रिंचना, रिचन, रिंचन शाह, रिंचन मलिक और मलिक रिनचन आदि।

लछान ग्याल्बु रिंचना था, लद्दाख के एक बौद्ध राजकुमार थे, और लद्दाख के राजा, ल्हाचन नगोस-ग्रुबा के पुत्र थे, जिन्होंने 1290 से 1320 तक लद्दाख पर शासन किया था।

वह बुलबुल शाह के यहाँ अध्यात्मिक शान्ति से प्रभावित हो मुसलमान बन गया था ।।[3] [4]

रिंचन की पत्नी कोट रानी (d. १३३९) कश्मीर की अन्तिम हिन्दू रानी थी। वह उद्वनदेव की रानी थी। उनके पति की मृत्यु के पश्चात शाहमीर ने उससे विवाह करने का प्रयत्न किया। पर कोट रानी ने आत्म हत्या कर ली।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Pillai, P. Govinda (2022-10-04). The Bhakti Movement: Renaissance or Revivalism? (अंग्रेज़ी में). Taylor & Francis. पृ॰ 150. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-000-78039-0.
  2. "Origins of Islam in Kashmir: Valley's saga of conflict in search of identity".
  3. Hazrat Bulbul Shah (RA) and Rinchana https://www.risingkashmir.com/-Hazrat-Bulbul-Shah--RA--and-Rinchana--91990 Archived 2021-12-08 at the वेबैक मशीन
  4. कश्मीर के पहले मुस्लिम राजा रिंचन की कहानी https://thecrediblehistory.com/featured/first-muslim-king-of-kashmir/