मुरलीधर चन्द्रकान्त भंडारे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मुरलीधर चन्द्रकान्त भंडारे
जन्म 10 दिसम्बर 1928
मुंबई
राष्ट्रीयता भारतीय
प्रसिद्धि कारण उड़ीसा के राज्यपाल
धार्मिक मान्यता हिन्दू

मुरलीधर चंद्रकांत भंडारे महाराष्ट्र से एक वरिष्ठ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस नेता और १९८०-१९८२, १९८२-१९८८ और १९८८-[1]१९९४ के दौरान तीन पदों के लिए पूर्व १९८० से १९९४ तक राज्यसभा सदस्य है।

वह भारत के उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता के रूप में प्रथाओं और दो ​​शब्दों के लिए सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष थे।[2]

वह १९ अगस्त २००७ को उड़ीसा के राज्यपाल नियुक्त किया गया था[3] और २१ अगस्त को शपथ ली। [4]


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Rajya Sabha Members". मूल से 14 फ़रवरी 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2009-12-30.
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से 12 अप्रैल 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 अगस्त 2011.
  3. "Tiwari appointed new Andhra governor" Archived 2019-01-11 at the Wayback Machine, IST, TNN (द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया ), August 20, 2007.
  4. "Bhandare sworn in Governor" Archived 2011-02-28 at the Wayback Machine, द हिन्दू, August 21, 2007.