महान्यायवादी (भारत)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारत का महान्यायवादी (Attorney General) भारत सरकार का मुख्य कानूनी सलाहकार तथा भारतीय उच्चतम न्यायालय में सरकार का प्रमुख वकील होता है।

भारत के महान्यायवादी (अनुच्छेद ७६) की नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति द्वारा की जाती है। जो व्यक्ति उच्चतम न्यायालय का न्यायाधीश बनने की योग्यता रखता है, ऐसे किसी व्यक्ति को राष्ट्रपति महान्यायवादी के पद पर नियुक्त कर सकते हैं।

देश के महान्यायवादी का कर्तव्य कानूनी मामलों में केंद्र सरकार को सलाह देना और कानूनी प्रक्रिया की उन जिम्मेदारियों को निभाना है जो राष्ट्रपति की ओर से उनके पास भेजे जाते हैं। इसके अतिरिक्त संविधान और किसी अन्य कानून के अंतर्गत उनका जो काम निर्धारित है, उनका भी पालन उन्हें पूरा करना होता है। अपने कर्तव्य के निर्वहन के दौरान उन्हें देश के किसी भी न्यायालय में उपस्थित होने का अधिकार है। उन्हें संसद की कार्यवाही धारा ८८ के नुसार भाग लेने का अधिकार है, हालांकि उनके पास मतदान का अधिकार नहीं होता। उनके कामकाज में सहायता के लिए सॉलिसिटर जनरल और अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल होते हैं।


Attorney General of India (Name)           Tenure
1. M.C. Setalvad (longest term) 28 January 1950 - 1 March 1963
2. C.K. Daftari 2 March 1963 - 30 October 1968
3. Niren de 1 November 1968 - 31 March 1977
4. S.V. Gupte 1 April , 1977 - 8 August 1979
5. L.N. Sinha 9 August, 1979 - 8 August, 1983
6. K. Parasaran 9 August 1983 - 8 December 1989
7. Soli Sorabjee (shortest tenure) 9 December 1989 - 2 December 1990
8. J. Ramaswamy 3 December , 1990 - November 23, 1992
9. Milon K. Banerji 21 November 1992 - 8 July 1996
10. Ashok Desai 9 July 1996 - 6 April 1998
11. Soli Sorabjee 7 April 1998 - 4 June 2004
12. Milon K. Banerjee 5 June 2004 - 7 June 2009
13. Goolam Essaji Vahanvati 8 June 2009 - 11 June 2014
14. Mukul Rohatgi 12 June, 2014 - 30 June 2017
15. K.K. Venugopal 30 June  2017 till date

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]