महाइंजीनियरी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अत्यन्त विशाल स्तर वाली परियोजनाओं का कार्यान्यवन मैक्रोइंजीनियरी (macro-engineering) कहलाता है। विशाल आकार की ऐसी परियोजनाओं को 'महापरियोजनाएँ' कहते हैं। महापरियोजनाओं के कार्यान्यवन में बहुत सारे विशेषज्ञता वाले क्षेत्रों का तालमेल और समन्वय करना पड़ता है। इनमें न केवल इंजीनियर, बल्कि वकील, उद्योगपति, सैनिक और राजनेता आदि भी सम्मिलित होते हैं। महापरियोजनाएँ प्रायः अन्तरराष्ट्रीय होती हैं क्योंकि एक ही देश के पास इनको चलाने के लिये आवश्यक सामाजिक, वित्तीय एवं भौतिक साधन जुटाना अत्यन्त कठिन होता है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]