बॉम्बे इंजीनियर ग्रुप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बॉम्बे इंजीनियर ग्रुप
सक्रिय१७८०–वर्तमान
देशभारत
शाखाभारतीय सेना (कोर ऑफ इंजीनियर्स)
प्रकारकम्बट इंजीनियर
भूमिकाकम्बट सपोर्ट
मुख्यालयकिरकी, पुणे
आदर्श वाक्यसर्वत्र!

बॉम्बे इंजीनियर ग्रुप या बॉम्बे सैपर्स भारतीय सेना के कोर ऑफ इंजीनियर्स की एक रेजिमेंट हैं।[1] बॉम्बे सैपर्स का मूल ब्रिटिश राज के समय में तत्कालीन बॉम्बे प्रेसिडेंसी से है।[2] इनका रेजिमेंटल केंद्र महाराष्ट्र राज्य के पुणे नगर के समीप स्थित किरकी छावनी में है। बॉम्बे सैपर्स ने १९वीं और २०वीं शताब्दी के दौरान आजादी से पहले और बाद में, युद्ध या शांति काल - दोनों में ही कई सम्मान और पुरस्कार प्राप्त किये हैं। इनके द्वारा जीते गए वीरता पुरस्कारों में स्वतंत्रता से पहले ब्रिटिश विक्टोरिया क्रास तथा फ्रांसीसी लीजन ऑफ़ ऑनर शामिल है, साथ ही स्वतंत्र भारत के हिस्से के रूप में परमवीर चक्र और अशोक चक्र भी शामिल हैं। समूह ने खेल, साहसिक कार्य, आपदा राहत, नागरिक प्राधिकरण को सहायता और प्रतिष्ठित निर्माण परियोजनाओं जैसे शांतिप्रद गतिविधियों में भी अपनी पहचान बनाई है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Babayya, K; Ahlawat, S; Kahlon, HS & Rawat, SS (2006). A Tradition of Valour, 1820-2006 : An illustrated Saga of the Bombay Sappers. Bombay Engineer Group & Centre, Khadki, Pune &, ARB Interactive, Mumbai.
  2. Sandes (1948). Today, this company is known as the 18 Field Company and is part of the 106 Engineer Regiment. The Indian Sappers & Miners, pg 29.

विस्तृत पठन[संपादित करें]

  • Anonymous 1996. A brief history of the Bombay Engineer Group. The Bombay Engineering Group & Centre, Khadki, Pune. Preface & 95 pages.
  • Babayya, Brig. K., Ahlawat, Col. Satpal, Kahlon, Col. H.S. & Rawat, Lt.Col. S.S. (eds) 2006 A Tradition of Valour 1820–2006 – an illustrated saga of the Bombay Sappers. The Bombay Engineering Group & Centre, Khadki, Pune. i to xvii. 280 pages.
  • Sandes, Lt.Col. E.W.C. 1948. The Indian Sappers and Miners. The Institution of Royal Engineers, Chatham. 726 pp, 31 plates, 51 campaign maps/plans inside and 3 general maps in the end jacket pocket.
  • Singh, Maj. Sarbans 1993.Battle Honours of the Indian Army 1757–1971. Vision Books, New Delhi. Pages 372 with 24 Maps, Appendices A to F, Bibliography & Index.
  • Barker-Wyatt,Brig. D.A., Jones,Lt.Col. D.L. and Norman,Capt. E.L. 1999. The Royal Bombay Sappers & Miners 1939–1947. The Royal Bombay Sappers & Miners Officers Association. 640 pages and 66 maps.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]