बी॰ बी॰ निम्बालकर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भाऊसाहेब बाबासाहेब निम्बालकर (12 दिसम्बर 1919 – 11 दिसम्बर 2012), जिन्हें आमतौर पर बी॰ बी॰ निम्बालकर के नाम से जाना जाता था, भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी थे। वह 1948-49 सत्र के रणजी ट्रॉफी के दौरान नाबाद 443 के अपने स्कोर के लिए जाने जाते हैं।[1] यह भारतीय प्रथम श्रेणी क्रिकेट में एकमात्र चौथा शतक और सर्वोच्च स्कोर है। यह उस क्रिकेट खिलाड़ी द्वारा किया गया सर्वाधिक स्कोर है जिसने कभी टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला।

निम्बालकर का जन्म कोल्हापुर में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा कोल्हापुर के मॉडल स्कूल में की थी। उन्होंने 1939 में बड़ौदा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी करियर की शुरुआत की।[2] रणजी ट्रॉफी के मैचों में 56.72 की शानदार बल्लेबाजी औसत के बावजूद, निम्बालकर ने कभी टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला। उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर 1939-40 से 1964-65 तक चला।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Babasaheb Nimbalkar passes away". Wisden India. 11 December 2012.
  2. Former Ranji cricketer Nimbalkar dead – The Hindu. Published 12 December 2012. Retrieved 12 December 2012.