बिशन सिंह शेखावत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ग्राम खाचरियावास सीकर (शेखावाटी क्षेत्र) में जन्मे और शिक्षित, अब दिवंगत, राजस्थान के एक जाने-माने अध्यापक, शिक्षक-नेता, भारतीय उपराष्ट्रपति भैंरोंसिंह शेखावत के छोटे भाई थे जो राजकीय सेवानिवृत्ति के बाद [पत्रकार-कवि कर्पूर चंद कुलिश के दैनिक समाचार-पत्र राजस्थान पत्रिका से जुड़े और जिन्होंने बहुत लम्बे समय तक राजस्थान के हर बड़े गाँव का इतिहास और उनकी वर्तमान दशा-दिशा पर टिप्पणी अपने जनप्रिय स्तम्भ 'आओ गाँव चलें !' में नियमित रूप से लिखी.