बाघ के पद चिन्ह में विभिन्न्ताएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में बाघ के पद चिन्ह
मादा बाघ के पद चिन्ह

नर बाघ और मादा बाघ के पद चिन्ह देखने में सामान्य लग सकते हैं परंतु सामान्य होते नहीं और उनका विश्लेषण करके निम्न विभिन्ताए पाई जाती है:-

  1. नर बाघ के पदचिन्ह चकोर आकर के अनुकूल होते हैं!
  2. मादा बाघ के पदचिन्ह समकोण आकर के अनुकूल होते हैं!
  3. नर बाघ के पंजे अत्यधिक गोलाई में होते हैं!
  4. मादा बाघ के पंजे लम्बे होते हैं!
  5. अगर पद चिन्ह के लम्बाई और चोड़ाई
  6. सेन्टीमीटर से कम होती है तो वह चिन्ह नर बाघ के होते हैं!
  7. और अगर पदचिन्ह के लम्बाई और चोड़ाई १.५ cm से जादा होती है तो वह मादा बाघ के पदचिन्ह होते हैं।

[1] [2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Milàn, J.; Christiansen, P.; Mateus, O. (2005). "A three-dimensionally preserved sauropod manus impression from the Upper Jurassic of Portugal: implications for sauropod manus shape and locomotor mechanics.". Kaupia. 14: 47–52. Retrieved March 2, 2014
  2. Singh, L. A. K. (2000): Tracking Tigers : Guidelines for Estimating Wild Tiger Population Using the Pugmark Technique. (Revised Edition). WWF Tiger Conservation Programme, New Delhi.