सामग्री पर जाएँ

बलवंत सिंह (लेखक)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

बलवंत सिंह हिन्दी: हिन्दी: बलवंत सिंह (जन्म:जून 1921ई. - 27 मई 1986ई.) बीसवीं सदी की उर्दू और हिन्दी  के मशहूर नाटककार, उपन्यासकार और गल्पकार और पत्रकार हैं जिन्होंने जगा, पहला पत्थर, तारोपुद, हिंदुस्तान हमारा जैसे कहानी संग्रह और कॉल कोस, रात, चोर और चाँद, चक पीरान का जस्सा  जैसे लजवाल उपन्यास सृजन किए और अपनी रचनात्मक गुणों से उर्दू गल्प को विश्वीय पहचान देने मैं #अहम भूमिका अदा की।

रचनाएँ[संपादित करें]

उर्दू कहानी संग्रह[संपादित करें]

  • जग्गा
  • पहला पत्थर
  • हिंदुस्तान हमारा
  • सुनहरा देश
  • तारो पोद
  • बलवंत सिंह के अफ़साने 
  • आबगीना (नया अफ़सानवी मजमूआ तर्तीब-ओ-तहक़ीक़ डाक्टर जमील अख़तर

हिन्दी कहानी संग्रह[संपादित करें]

  • पंजाब की कहानियाँ
  • चिलमन
  • पहला पत्थर
  • मेरी پریہ कहानियाँ
  • देवता का जन्म
  • प्रतिनिधि कहानियां 
  • बन-बास तथा अन्य कहानियां 
  • अली अली
  •  मेरी तेंतीस कहानियां 
  •  मैं ज़रूर रोऊँगी
  • आनन्द कारज

उर्दू उपन्यास[संपादित करें]

  • काले कोस
  • चक पीरां का जस्सा
  • रात, चोर और चांद 

हिन्दी उपन्यास[संपादित करें]

  • रावी पार
  • साहब-ए-आलम 
  • सूना आसमान 
  • दो अकालगढ़ 
  • आग की कलियाँ 
  •  बासी फूल 
  •  फिर सुबह होगी 
  • राका की मंज़िल
  • होनी अनहोनी


सन्दर्भ[संपादित करें]