बर्नारडो बर्टोलूची

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बर्नारडो बर्टोलूची
Bernardo Bertolucci.jpg
साल 2011 में बर्टोलूची
जन्म 16 मार्च 1940 (1940-03-16) (आयु 78)
पारमा, एमिलिया-रोमाग्ना, इटली
व्यवसाय
  • फिल्म निर्देशक
  • पटकथा लेखक
माता-पिता
  • अत्तीलियो बर्टोलूची (1911–2000)
  • निनेता गिवाोवानर्दी (1912–2005)

बर्नारडो बर्टोलूची (इतालवी: [berˈnardo bertoˈluttʃi]; 16 मार्च 1940 को जन्म) एक इतालवी फिल्म निर्देशक और पटकथा लेखक हैं। उनकी प्रमुख फिल्में हैं - द कंफर्मिस्ट, लास्ट टैंगो इन पेरिस, द लास्ट इंपरर, द सेल्टरिंग स्काई, स्टीलिंग ब्यूटी, द ड्रीमर्स और लिटिल बुद्धा। सन् 2011 में फिल्म निर्माण में उनके योगदान को देखते हुए कान्स फिल्म समारोह में उन्हें पाम दी ओर पुरस्कार से सम्मानित किया गया। चर्चित पटकथा लेखिका क्लारा पेप्लो उनकी पत्नी हैं।[1][2]

जीवन परिचय[संपादित करें]

बर्नारडो बर्टोलूची का जन्म इटली के एमिलिया रोमाग्ना प्रांत के पारमा शहर में हुआ था। उनके पिता एक कवि, इतिहासकार और फिल्म समीक्षक थे। एक सुसंस्कृत परिवार में लालन-पालन का असर ये हुआ कि बर्टोलूची ने मात्र 15 वर्ष की आयु में लेखन कार्य शुरू कर दिया। बर्टोलूची के पिता ने मशहूर इतालवी फिल्मकार पियरे पाओलो पसोलिनी के पहले उपन्यास के प्रकाशन में मदद की थी जिसके बदले में पसोलिनी ने बर्टोलूची को अपनी फिल्म अकातोन में अपना वरिष्ठ सहायक निर्देशक के रूप में काम करने का मौका दिया।

फिल्म निर्माण[संपादित करें]

बर्टोलूची अपने पिता की तरह एक कवि और लेखक बनना चाहते थे। उन्होने रोम विश्वविद्यालय के आधुनिक साहित्य विभाग में दाखिला ले लिया लेकिन इसी बीच बर्टोलूची को पसोलिनी की फिल्म में बतौर सहायक निर्देशक कार्य करने का मौका मिल गया जिसके बाद बर्टोलूची ने स्नातक की शिक्षा अधूरी छोड़ दी। बर्टोलूची ने 1962 में मात्र 22 साल की आयु में अपनी पहली फीचर फिल्म का निर्देशन किया। सन् 1972 में बर्टोलूची की फिल्म द लास्ट टैंगो इन पेरिस से एक बड़ा विवाद खड़ा हो गया। इस फिल्म में मर्लेन ब्रांडो और मारिया शिन्डर ने प्रमुख भूमिकाएं निभाई थीं। इस फिल्म के एक रेप सीन को लेकर बर्टोलूची पर तमाम आरोप लगे, मुकदमे हुए और सजा भी हुई।

1976 में बर्टोलूची ने 1900 नाम से एक फिल्म का निर्माण किया और भव्य शैली में फिल्म निर्माण की एक नई शैली को जन्म दिया। लेकिन बर्टोलूची को असली प्रसिद्धी मिली फिल्म लास्ट इंपरर से। इस फिल्म में चीन के आखिरी बादशाह असिन ग्योरो पुई का जीवन वृत्तांत फिल्माया गया है। बर्टोलूची को इस फिल्म के लिए ऑस्कर पुरस्कार मिला।

सम्मान[संपादित करें]

  • 1971: सरर्वश्रेष्ठ निर्देशन के लिए नेशनल सोसायटी ऑफ फिल्म क्रिटीक अवॉर्ड
  • 1973: नास्त्रो दे अर्जेंटो के लिए सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार
  • 1987: सर्वश्रेष्ठ निर्देशन के लिए ऑस्कर पुरस्कार
  • 1987: सर्वश्रेष्ठ पटकथा के लिए ऑस्कर सम्मान
  • 1987: गोल्डन ग्लोेब सम्मान
  • 1987: डेविड डी दोन्तेलो सम्मान
  • 2007: वेनिस फिल्म समारोह में गोल्डन लॉयन पुरस्कार
  • 2011: कान्स फिल्म समारोह में पाम दी ओर सम्मान

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. BBC News (April 11, 2011). "Bernardo Bertolucci to receive Palme d'Or honour". BBC News (BBC). http://www.bbc.co.uk/news/entertainment-arts-13041286. अभिगमन तिथि: July 26, 2017. 
  2. Williams, Philip (February 3, 2007). "The Triumph of Clare Peploe". Movie Maker. http://www.moviemaker.com/archives/moviemaking/directing/articles-directing/the-triumph-of-clare-peploe/. अभिगमन तिथि: July 26, 2017.