बचत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

सामान्य अर्थों में बचत का अर्थ धन को संचित करने से है किन्तु अर्थशास्त्र में बचत का अर्थ मुद्रा को बैंक में रखने, पेंशन फंड में निवेश करने इत्यादि से लगाया जाता है। 'बचत' किसी भी अर्थव्यवस्था के विकास का आधार है । इसमें वृद्धि से निवेश में वृद्धि होगी जो कि उत्पादन में वृद्धि करेगा । फलतः अर्थव्यवस्था विकास करेगी ।