फ्लैट मेमोरी मॉडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

फ्लैट मेमोरी मॉडल (अंग्रेजी में: Flat memory model) या लीनियर मेमोरी मॉडल (linear memory model) मेमोरी एड्रेसिंग को संदर्भित करने वाला एक प्रतिमान (paradigm या नमूना) है, जिसमें "प्रोग्राम के सामने मेमोरी एक एकल सन्निहित (single contiguous) एड्रेस स्पेस के रूप में प्रकट होता है।"[1] सीपीयू सीधे (और रैखिक रूप से) सभी उपलब्ध मेमोरी स्थानों को एड्रेस (संबोधित) कर सकता है; किसी भी प्रकार के मेमोरी सेगमेंटेशन या पेजिंग योजनाओं (scemes) का सहारा लिए बिना।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Gonzalez, Antonio; Latorre, Fernando; Magklis, Grigorios (2011). Processor Microarchitecture: An Implementation Perspective. Morgan & Claypool Publishers. पृ॰ 72. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781608454525. मूल से 28 जून 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 फ़रवरी 2020.