फिदेल कास्त्रो की हत्या के प्रयास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
फिदेल कास्त्रो (आसमानी कपड़ों में) 2014 की एक तस्वीर में

फिदेल कास्त्रो क्यूबा के राष्ट्रपति थे। 25 नवम्बर 2016 को प्रकृतिक कारणों से उनकी मृत्यु हो गई थी। परन्तु उनके जीवन और शासनकाल के दौरान अमरीकी खुफ़िया एजन्सी सी आई ए द्वारा उनकी हत्या के अनेक प्रयास किए गए जो पूरी तरह से असफल रहे।

विभिन्न अमरीकी राष्ट्रपतियों के शासनकाल के दौरान फिदेल कास्त्रो पर किए जानलेवा हमलों की सूची[संपादित करें]

अमरीकी राष्ट्रपति जिनके शासलकाल में फिदेल कास्त्रो की हत्या के षड्यन्त्र बनाया गया हत्या के प्रयासों की संख्या
एज़ेनहोवर 38
केन्नेडी 42
जॉनसन 72
निक्सन 184
कार्टर 64
रीगन 197
जॉर्ज बुश (सीनियर) 16
क्लिन्टन 21

हत्या के कुछ उल्लेखनीय प्रयास[संपादित करें]

धमाकू सिगार[संपादित करें]

1967 में एक समाचारपत्र ने खबर दी कि 1960 के दशक में सी आई ए ने कास्त्रो की सिगार में धमाकू माद्दा भरकर उड़ाने का प्रयास किया था।

आईस्क्रीम में ज़हर[संपादित करें]

कास्त्रो को आईस्क्रीम का शौक़ीन था। सी आई ए ने इसी कमज़ोरी का फ़ाइदा उठाकर ज़हर मिलाने का 1961 में प्रयास किया था।

समुंदर की सीपी में धमाके का प्रयास[संपादित करें]

कास्त्रो एक अच्छे तैराक थे। इसी के देखते हुए सी आई ए ने 1963 में योजना बनाई कि समुद्र में कुछ ऐसे विस्फोटक माद्दे सीपियों में भरे जाएँ जो कास्त्रो के तैरने के दौरान फट जाएँ। पर ऐसा कुछ नहीं हुआ और अंत में सी आई एस ही को इस विस्फोटक सामग्री को हटाना पड़ा।

इंसानी मांस खानेवाले कपड़े[संपादित करें]

यह 1961 की एक योजना थी। इस योजना में एक तैराकी की पोशाक तय्यार की गई जिसमें दीर्घकालिक चमड़े की बीमारी पैदा करनावाला फफूंद भी था और साँस लेने की नाली में दम्मे की बीमारी का प्रबंध था। इस योजना को क्रियांवित करने के लिए एक ऐसे अमरीकी वकील की साझेदारी का प्रयास किया गया जो कास्त्रो से लगातार सम्पर्क में था। परन्तु उस वकील ने साथ देने से इंकार कर दिया।

चरित्र हनन के प्रयास[संपादित करें]

1960 के दशक में सीधे मृत्यु देने के बजाए सी आई ए ने कास्त्रो की सार्वजनिक छवि को ख़राब करने का प्रयास किया। इसके लिए कास्त्रो के रेडियो प्रसारणों की गुणवत्ता को प्रभावित करने का प्रयास किया गया। एक और प्रयास यह भी किया गया कि कास्त्रो को ऐसे तेज़ ध्यान को दूसरी दिशा में ले जानेवाले सिगार दिए गए जिससे देश के आगे कास्त्रो का भाषण समझ से बाहर लगे।

सन्दर्भ[संपादित करें]