प्रतीतीकरण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

प्रतीतीकरण (Persuasion) वह अंतर्वैयक्तिक या सामाजिक प्रक्रिया होती है जिसमें एक व्यक्ति, समूह या संगठन किसी अन्य व्यक्ति, प्राणी, समूह या संगठन को तर्क, बल या प्रभावित करने के अन्य मार्गों द्वारा उनके दृष्टिकोण, विचारों या व्यवहारों को किसी विशेष दिशा में ले जाने का प्रयत्न करता है।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Seiter, Robert H. Gass, John S. (2010). Persuasion, social influence, and compliance gaining (4th ed.). Boston: Allyn & Bacon. p. 33. ISBN 0-205-69818-2.