पेट दर्द

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Abdominal pain
ICD-10 R10.
ICD-9 789.0

पेट दर्द अथवा उदरीय दर्द, क्षणिक बीमारी अथवा गंभीर बीमारी का एक लक्षण हो शकता है. पेट दर्द के कारण से एक निश्चित निदान करना कठिन हो सकता है, क्योंकि कई बीमारियों में ये लक्षण देखा जा शकता है. पेट दर्द एक आम समस्या है. पेट दर्द में सबसे अक्सर कारण सौम्य और / या आत्म - सीमित है, लेकिन और अधिक गंभीर कारण के अन्दर तत्काल हस्तक्षेप की आवश्यकता हो सकती है.

विभेदक निदान[संपादित करें]

  • जठरांत्रिय
    • ज्वालाग्राही: आंत्रशोथ, आंत्रपुच्छकोप, पेट में सुजन ,ग्रासनलीशोथ, विपुटीशोथ,crohn के रोग, सव्रण बृहदांत्रशोथ,सूक्ष्म बृहदांत्रशोथ
    • रुकावट: हर्निया,आंत्रावरोध,वोल्वुलुस ,शल्य चिकित्सा के बाद के जुडाव ,रसौली , उपरवाली मेसेंत्रिक धमनी के विकार गंभीर कब्ज, बवासीर
    • रक्त कोष्ठक संबंधी : अन्त: शल्यता, घनास्त्रता, खून का बहना , दरांती सेल रोग,उदर के दर्द , रक्त धमनी दबाव जैसे की सेलिअक धमनी दबाव सिंड्रोम , स्थितिज ऑर्थोस्टैटिक तीव्र हृदय स्‍पंदन दर
    • पाचन सम्बन्धी : उदर व्रण,लैक्टोज असहिष्णुता,सीलिएक रोग,खाद्य एलर्जी
  • पित्त प्रणाली
    • भड़काऊ: पित्ताशय की सुजन ,पित्तवाहिनी शोथ
    • रुकावट: पित्त पथरी और ट्यूमर
  • यकृत
    • भड़काऊ: हैपेटाइटिस, जिगर फोड़ा
  • अग्नाशय
    • भड़काऊ: अग्नाशय पे सुजन
  • गुर्दे और मूत्र संबंधी बीमारियों
    • सूजन: पाइलोनेफ्रिटिस अथवा वृक्कगोणिकाशोध, और मूत्राशय के संक्रमण
    • रुकावट: गुर्दे की पथरी,उरोलिथिअसिस अथवा पेशाब की पथरी बनना ,मूत्र प्रतिधारण अथवा मूत्र की रुकावर ट्यूमर
    • रक्त कोष्ठक संबंधी : बाईं वृक्क नस फंसाने
  • स्त्रीरोगों या प्रसूति
    • भड़काऊ: श्रोणि सूजन की बीमारी
    • यांत्रिक: डिम्बग्रंथि का मरोड़ीदार होना
    • अन्तः स्रावी सम्बन्धी : माहवारी, Mittelschmerz
      ट्यूमर : - अंतर्गर्भाशय-अस्थानता पे सुजन , गर्भाशय तंतुपेशी-अर्बुद डिम्बग्रंथि पुटी,डिम्बग्रंथि के कैंसर
    • गर्भावस्था: अस्थानिक गर्भावस्था का टूट जाना अस्थिर गर्भपात
  • उदर की दीवार
    • मांसपेशी तनाव या आघात
    • मांसपेशियों में संक्रमण
    • चेता तंत्रिकाजन्य दर्द :वर्तुलाकार दाद ,लाइम रोग मेंनाड़ी मूल में सूजन , ऊदर की ऊपरी तंत्रिका के विकार, त्वक् कील , मेरुरज्‍जु अपजनन
  • संदर्भित किया जाता है दर्द
    • छाती के ऊपरी भाग से: निमोनिया,फुफ्फुसीय अन्त: शल्यता, इस्चेमिक हृदय रोग ( हृदय तक खून और ओक्सिजन का न पहोंचना ,हृदयावरण पर सुजन
    • रीढ़ से: नाड़ी मूल में सूजन
    • गुप्तांग से: वृषण का मरोड़ीदार होना
  • चयापचय गड़बड़ी
    • युरीमिया ,मधुमेह कीटोअम्लमयता ,पोरफ़ीरिया;,सी १ - एस्तारेज अवरोध करनेवाले की कमी, अधिवृक्क कमी, सीसा विषाक्तता,काली विधवा मकड़ी के काटने से ,मादक ता से वापसी
  • रक्त वाहिकाओं
    • महाधमनी विच्छेदन,उदर सम्बन्धी महाधमनी धमनीविस्फार
  • प्रतिरक्षा तंत्र
    • सारकॉइडोसिस
    • वाहिकाशोथ || किसी रक्तवाहिका का प्रदाह
    • पारिवारिक भूमध्यसागरीय बुखार
  • किसी अनजाने कारण से उत्पन्न दशा;
    • चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम (करीब २० % जनसँख्या चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम से प्रभावित है,आवर्तक आंतरायिक उदर के दर्द में चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम सबसे सामान्य कारन है)

तीव्र पेट दर्द[संपादित करें]

तीव्र उदर की परिभाषा ये है की, किसी कारन से भयंकर, लगातार पेट दर्द रहे , अचानक पेट में दर्द हो तो ऐसे कारण के इलाज लिए सर्जिकल हस्तक्षेप किया जा सकता है. मतली और उल्टी,पेट का फैलाव,उदार का फुलाव,बुखार ,और, आघात ये सारे लक्षण पेट दर्द के संकेत के साथ जुड़े होते है. तीव्र पेट दर्द का सबसे सामान्य कारन है तीव्र उपान्त्र शोथ, जिसके अन्दर श्लेष्मा अथवा मल जमा होनेसे वो सख्त हो जाता है और उस के मुख को बंध कर देता है.

तीव्र पेट के कारण चयनित

  • दर्दनाक: पेट, आंत , तिल्ली , जिगर अथवा गुर्दे पर कुंठित अभिघात अथवा वेधन चोट लगती है तो.
  • शोथयुक्त|| प्रदाहक|| सूजन
    • पित्ताशय पे सुजन ,अग्नाशयशोथ ,वृक्कगोणिका का प्रदाह,श्रोणि सूजन बीमारी,हैपेटाइटिस,ग्रंथिशोथ, या मध्य पट के निचे फोड़ा होना,ये सारे संक्रमण के प्रकार है.
    • पेप्टिक अल्सर, गुप्तमार्ग या सीकुम में छिद्रण हो तो
    • बृहदांत्रशोथ, प्रदाहक आंत्र रोग और क्रोह्न रोग या बड़ी आंत की प्रदाहक एवं व्रणग्रस्‍त अवस्‍था की जटिलताए और उपद्रव
  • यांत्रिक || भौतिक
    • लघु आंत्र की रुकावट या सूजन ,पिछले सर्जरी के कारन आसंजन से, आंत्रावरोध,अंत्रवृद्धि; ,सांघातिकता अथवा सौम्य गुल्म
    • सूजन आंत्र रोग,मल कस कर भरना,अंतडिया और गुदाध्वार के कैंसर, हेर्निया , या वॉलन्यूलस के कारन बड़े आंत्र की रूकावट
  • आमतौर पर ऊपर वाली आंत्रयोजनी धमनी में थ्रोमबोइम्बोलिज़्म के कारन आंत्र में खून और ओक्सिजन कम पहोंचता है. उसको अवरोधी अथवा बंद करने से संबंधित आंत्र इस्चेमिया कहते है.

बच्चों और किशोरों में आवर्तक पेट दर्द[संपादित करें]

आवर्तक पेट दर्द करीब (रैप)५-१५ % बच्चों में होता है, और वो भी 6-19 साल की ऊम्र में . मध्यम और उच्च विद्यालय के छात्रों के एक समुदाय आधारित अध्ययन में, 13-17% बच्चो को साप्ताहिक पेट में दर्द था. चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम मापदंड (IBS) के हिसाब से , स्कूल के छात्रों के बीच 14%%, और उच्च विद्यालय के छात्रों में 6 % IBS के लिए वयस्क मापदंड फिट होता है . अन्य मुश्किल पुरानी चिकित्सा समस्या के हिसाब से रैप खाते के साथ अपने कार्यालय वास्तविक संख्या के अनुपात में और यात्राओं चिकित्सा संसाधनों का एक बहुत बड़ी संख्या में रोगियों के लिए तकलीफ बनती है. रैप अधिकांश रोगियों जो अक्सर एपिसोड के साथ जुड़े रहे हैं उनको आश्वासन और तकनीक से चिन्ता और तनाव,में फायदा हुआ है.

निदानकारी दृष्टिकोण[संपादित करें]

जब एक चिकित्सक, चिकित्सा करने के लिए रोग के कारन ,पेट दर्द की शिकायत पेश करने के बाद , कितने समय से तकलीफ है वो जानने के बाद और शारीरिक परीक्षा से रोगियों के उपचार के बाद लगभग 90% से अधिक एक निदान प्राप्त कर लेता है.

यह एक चिकित्सक के लिए भी महत्वपूर्ण है की वो स्मरण रखे कि पेट दर्द किसी बाहर की समस्याओं के कारण भी हो सकता है , विशेष रूप से दिल के दौरे और निमोनिया है जो कभी कभी पेट में दर्द कर सकते हैं.

जांच कि निदान में सहायता करने वाले

  • खून की जांच जैसे क्रिएटिनाइन , परीक्षणों सहित पूर्ण रक्त गणना, इलेक्ट्रोलाइट्स, यूरिया, यकृत समारोह परीक्षण, गर्भावस्था परीक्षण और लाइपेज़ .
  • पेशाब का पूर्ण परिक्षण
  • पेट इमेजिंग के अन्दर सीधा छाती का एक्स रे, सादी पेट सोनोग्राफी सामिल होता है
  • एक इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफ़ हार्ट की समस्या है की नहीं वो देखने के लिए, क्युकी वो कभी कभी पेट दर्द के रूप में दिखाई देता है

यदि इतिहास के बाद निदान अस्पष्ट बनी हुई है, तो परीक्षा बुनियादी जांच. और अधिक उन्नत जांच से एक निदान प्रकट हो सकता है इन जैसे शामिल होंगे

  • श्रोणि/पेट के लिए कम्प्यूटर टोमोग्राफी
  • पेट या श्रोणि का अल्ट्रासाउंड
  • पेट की आन्तरिक तपास और आंत्र की आंतरिक तपास ( तीव्र दर्द के निदान लिए प्रयोग नहीं किया जा सकता )

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • पेट की परीक्षा

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • Apley जम्मू, Naish एन: आवर्तक पेट दर्द: 1,000 स्कूली बच्चों के एक क्षेत्र सर्वेक्षण. ' आर्क Dis 1958 बाल, 33:165 - 170.
  • जीर्ण श्रोणि का दर्द और स्त्री किशोरों में आवर्तक पेट दर्द
  • संयुक्त Boyle, Hamel-Lambert जम्मू: पेट दर्द Biopsychosocial कार्यात्मक मुद्दों में 30:1. Ann Pediatr 2001;.
  • [1] पेट में दर्द या पेट में दर्द का ग़लत रोग-निदान हो सकता है.अगर दर्द एक दिन से अधिक बनी हुई है तो चिकित्सक के बजाय एक पेट दर्द के स्पेसिअलिस्ट से परामर्श करे .
  • पेट दर्द और शर्तें.