पूर्ण ऊष्मा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी निकाय की पूर्ण ऊष्मा या एन्थैल्पी (Enthalpy , प्रतीक : H) निम्नलिखित प्रकार से पारिभाषित है-

H = U + pV

जहाँ U आन्तरिक ऊर्जा है, p निकाय का दाब है और V आयतन। चूंकि p और V दोनों ही ऊष्मागतिक निकाय के अवस्था (state) के फलन है, इसलिये पूर्ण ऊष्मा भी अवस्था का फलन है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]