पाकिस्तान ज़िन्दाबाद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

पाकिस्तान ज़िन्दाबाद (उर्दू: پاکستان زِنده بادPākistān Zindah bād, उर्दु उच्चारण: [ˌpaːkɪsˈt̪aːn ˈzɪnˌd̪aːˈbaːd̪]; मतलब: पाकिस्तान की जय हो) देश पाकिस्तान के प्रति देशभक्ति और विजय के अवसर पर ख़ुशी व्यक्त करने हेतु एक नारा है। इसके अतिरिक्त इसे राजनीतिक और राष्ट्रीय भाषणों में भी प्रयोग किया जाता है।[1][2] पाकिस्तान ज़िन्दाबाद के नारे सबसे पहले पाकिस्तान आंदोलन के दौरान लगाए गए थे, जब भारतीय उपमहाद्वीप के कई मुसलमान ब्रिटिश भारत में एक अलग इस्लामी राष्ट्र की माँग कर रहे थे।[3] ऑल इंडिया मुस्लिम लीग के समर्थकों के दरम्यान ये नारे एक दूसरे से अभिवादित करने का तरीक़ा था।[4] आज 'पाकिस्तान ज़िन्दाबाद' पाकिस्तान देश का राष्ट्रीय नारा भी है।[5]

उल्लेखनीय उपयोग[संपादित करें]

राजनीतिक[संपादित करें]

2009 में जब सउदी अरब के शाह अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के सेना प्रमुख अशफ़ाक़ परवेज़ कयानी से मुलाक़ात की थी, उन्होंने दोनों देशों के बीच की दोस्ती को व्यक्त करने के लिए बारम्बार "पाकिस्तान ज़िन्दाबाद" का नारा लगाया।[6]

भारत में उपयोग[संपादित करें]

पाकिस्तान ज़िन्दाबाद के नारे अक्सर भारतीय राज्य जम्मू और कश्मीर (या भारत-अधिकृत कश्मीर[7][8][9][10])[11] में लगाए जाते हैं। 1985 में स्थानीय पुलिस ने एक कश्मीरी को हिरासत में लिया था क्योंकि उन्होंने "पाकिस्तान ज़िन्दाबाद" का नारा लगाया था, जो कि पुलिस के अनुसार एक राष्ट्र-विरोधी और उत्तेजक नारा था।[12]

शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम, श्रीनगर में हुए 13 अक्टूबर 1983 के लिमिटड ऑवर क्रिकेट मैच में जब वेस्टइंडीज़ क्रिकेट टीम ने भारतीय क्रिकेट टीम को हराया था, तब स्टेडियम में दर्शकों, जिनमें से जमात-ए-इस्लामी कश्मीर के कुछ सदस्य मौजूद थे, ने भारत की हार पर ख़ुशी व्यक्त करने के लिए पाकिस्तान ज़िन्दाबाद के नारे लगाने लगे।[13][14]

हिंसक कृत्य में उपयोग[संपादित करें]

भारत के विभाजन की अवधि में स्त्रियों के ख़िलाफ़ यौन हिंसा के दौरान "पाकिस्तान ज़िन्दाबाद" के नारे अक्सर लगाए गए थे: सामूहिक बलात्कार के पीड़ितों के शरीरों पर राजनीतिक नारों के गुदने गुदवाए गए थे।[15][16]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Henna Rakheja May 15, 2012, DHNS (2012-05-14). "Manto brought to life". Deccanherald.com. अभिगमन तिथि 2012-06-06.
  2. "Pakistan, India have no option but to promote peace: Shahbaz". Thenews.com.pk. अभिगमन तिथि 2012-06-06.
  3. Wolpert, Stanley (3 September 2009). Shameful Flight: The Last Years of the British Empire in India. Oxford University Press. पृ॰ 18. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-19-539394-1. अभिगमन तिथि 24 July 2012.
  4. Stanley Wolpert (12 October 1999). India. University of California Press. पपृ॰ 103–104. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0520221727. अभिगमन तिथि 22 June 2012.
  5. Aqeel Abbas Jafari (2010). Pakistan Chronicle (उर्दू में) (First संस्करण). 94/1, 26th St., Ph. 6, D.H.A., Karachi, Pakistan: Wirsa Publishers. पृ॰ 880. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9789699454004.
  6. "Saudi king assures full support to Pakistan". Daily Times. Islamabad. 13 April 2009. अभिगमन तिथि 24 June 2012.
  7. "General strike hits Indian-administered Kashmir". Press TV.Ir. 2012-04-07. अभिगमन तिथि 2012-07-23.
  8. "BURIED EVIDENCE:". Kashmir Process.Org. 2009-12-02. अभिगमन तिथि 2012-07-23.
  9. "Indian-administered Kashmir on strike after US sentences Fai". Daily Dawn.Com. 2012-04-17. अभिगमन तिथि 2012-07-23.
  10. GreaterKashmir.com (Greater Service) (2012-05-29). "Please read the report is all I can say Lastupdate:- Tue, 29 May 2012 18:30:00 GMT". Greaterkashmir.com. अभिगमन तिथि 2012-06-06.
  11. Jagmohan (January 2006). My Frozen Turbulence in Kashmir. Allied Publisher. पृ॰ 2. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-8177642858. अभिगमन तिथि 6 June 2012.
  12. Kashmir Under Siege. Human Rights Watch. 31 December 1991. पृ॰ 119. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0300056143. अभिगमन तिथि 6 June 2012.
  13. K.R. Wadhwaney (1 December 2005). Indian Cricket Controversies. Ajanta Books International. पृ॰ 332. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-8128801136. अभिगमन तिथि 23 June 2012.
  14. Victoria Schofield (18 January 2003). Kashmir in Conflict: India, Pakistan and the Unending War. I. B. Tauris. पृ॰ 132. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1860648984. अभिगमन तिथि 15 July 2012.
  15. Ritu Menon; Kamla Bhasin (1998). Borders & Boundaries: Women in India's Partition. Rutgers University Press. पृ॰ 43. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780813525525.
  16. Ritu Menon; Kamla Bhasin (1998). Borders & Boundaries: Women in India's Partition. Rutgers University Press. पृ॰ 43. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780813525525.