नेपियर बाजरा घास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सी ओ-४ (co-4) या नेपियर बाजरा घास एक प्रकार की घास है जो नवीनीकृत ऊर्जा का एक सुलभ प्राकृतिक स्रोत है।[1] छारीय मृदा को छोड़कर यह घास किसी भी मिट्टी में उग सकती है। केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र में दुग्ध उत्पादन को बढ़ाने के लिए इस घास का प्रयोग चारे के रूप में भी किया जाता है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "grass, melia dubia, can generate substantial power for Tamil Nadu". मूल से 15 जून 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 जून 2012.
  2. "grass used as fodder increases milk yield considerably". मूल से 24 जून 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 जून 2012.