द्वितीय पुलकेशी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सम्राट पुल्केशिन चालुक्य

सत्याश्रय, श्रीपृथ्वीवल्लभ , परमेश्वर परमभट्टारक जैसी उपाधियाँ ।

पुलकैशिन २(कन्नड: ಇಮ್ಮಡಿ ಪುಲಿಕೇಶಿ) चालुक्य राजवंश का एक महान शासक था। इन्होंने लगभग ६२० ईसवी में शासन किया था।[1] इन्हें पुलकैशी नाम से भी जाना जाता था।

गुर्जर सम्राट पुलकेशिन द्वितीय चालुक्य वंश के सबसे महान राजा थे l

यह गुर्जर गौरव के महान राजा थे इन्होंने उत्तर भारत के नरेश हर्षवर्धन को भी पराजित किया था l

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 22 फ़रवरी 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 फ़रवरी 2016.