द्विअपवर्तन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ग्राफ कागज पर रखे कैल्साइट क्रिस्टल से होकर देखने पर ग्राफ की नीली रेखाएँ दो-दो बार दिख रहीं हैं।

द्विअपवर्तन (birefringence) पदार्थ का वह प्रकाशीय गुण है जिसमें उसका अपवर्तनांक प्रकाश के ध्रुवण तथा प्रकाश के दिशा के अनुसार अलग-अलग होता है।