द्वारपाल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
जावा, इंडोनेशिया में नौवीं सदी के बौद्ध मंदिर के दो द्वारपालों में से एक।

द्वारपाल (संस्कृत, "दरवाजा रक्षक") द्वार अथवा प्रवेश-स्थान पर खड़े योद्धा अथवा बहादूर व्यक्ति से समझा जाता है, जो सामान्यतः हथियार रखता है जिसमें सबसे सामान्य गदा है।

सन्दर्भ[संपादित करें]